विदेश

USA के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का snapchat account किया गया बंद, जाने क्यूँ ?

Janprahar Desk
4 Jun 2020 9:58 AM GMT
USA के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का snapchat account किया गया बंद, जाने क्यूँ ?
x
मशहूर social networking app Snapchat ने डोनाल्ड ट्रम्प के अकाउंट को स्थगित किया है। उनपर विभिन्न आरोप लगे हैं कि वे अपने posts एवं stories से लोगों में हिंसक भावनाओं को बढ़ावा दे रहे हैं। ऐसे में मजबूरी में Snapchat ने उनके posts को recommended से हटा लिया।  
 

अमेरिका में पिछले कुछ दिनों से हालत बिगड़ते चले जा रहे हैं। जहां एक और देश कोरोना के खिलाफ लड़ रहा है, वही दूसरी ओर अपने नागरिकों को इसके संक्रमण से बचाने के लिए विभिन्न टीकों पर शोध भी कर रहा है। ऐसे में पिछले हफ्ते जब एक 43 वर्षीय अफ़्रीकी अमरीकी व्यक्ति George Floyd की पुलिस के हाथों निर्मम हत्या हुई, तो पूरा अमरीका racial discrimination के खिलाफ उठ खड़ा हुआ और आज हर जगह लोग "Black Lives Matter" के नारे लगा रहे हैं। लोग अपने BlackCommunity के भाई बंधुओं के साथ खड़े हुए हैं और उनके लिए न्याय मांग रहे हैं। ऐसे में अमेरिका के राष्ट्रपति Donald Trump को लेकर ऐसी खबरें आ रही है जिससे आप चौंक सकते हैं। Snapchat ने DonaldTrump का account स्थगित कर दिया है और उन्होंने ये कहा है कि Trump देश में द्वेष हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं और उनके snaps इस propaganda का हिस्सा हैं। 

भारतीय समय अनुसार आज सुबह खबर मिली है कि विश्व विख्यात Social Networking site Snapchat ने US के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का account racial violence को बढ़ावा देने के आरोप में बंद कर दिया हैं। युवाओं की पहली पसंद माने जाने वाले snapchat ने ये कहा कि वे अपने platform पर राष्ट्रपति की ऐसी कोई भी post अथवा story को प्रोत्साहित नहीं करेंगे क्यूंकि वे एक गलत मुद्दे को उठाने का प्रयास कर रहे हैं। 

Snapchat द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि हम ऐसी किसी भी आवाज़ को नहीं उठाएंगे न उठने देंगे जो racial violence को भड़का रहा है। ये उन सभी लोगों के साथ अन्याय होगा जो द्वेष भेद के खिलाफ लड़ रहे हैं और हम ऐसे किसी भी नकारात्मक विचार का अपने discover platform पर मुफ्त में endorsement नहीं करेंगे। 

आपको बता दें कि कुछ ही दिनों पहले ट्रम्प के एक ट्वीट को Twitter ने इस बिना पे हटा दिया था क्यूंकि वो हिंसा को बढ़ावा दे रहा था। इसके साथ ही देश के राष्ट्रपति भवन और तकनीकी क्षेत्र-social media के बीच एक तनातनी का सिलसिला शुरू हो गया। Twitter के द्वारा उठाये गए इस कदम की विश्व भर में सराहना हुई और इससे ये बात सिद्ध हुई की कुछ संस्थाएं है जो अब भी अपना पक्ष रखने की हिम्मत रखती हैं। 

Snapchat के चीफ evan spiegal ने अपने कर्मचारियों के लिए जारी एक बयान में कहा कि उन्हें अमेरिका में जो भी हो रहा है उसपर चिंता है लेकिन US में कई दशकों से चली आ रही रंग-भेद की घटनाएं निंदनीय हैं। उन्होंने ये स्पष्ट किया कि Snapchat किसी भी तरह से कोई भी ऐसे account को बढ़ावा नहीं देगा जो हिंसा को बढ़ावा दे रहा है। उन्होंने आगे ये भी कहा कि हर पल जब हम किसी बुरी घटना के होने के बाद चुप बैठते हैं, तो हम उस बुरी घटना को बढ़ावा दे रहे होते हैं। हमारा फ़र्ज़ बनता है कि हम ज़िम्मेदारी के साथ अपनी आवाज़ उठाये।    

Next Story
Share it