विदेश

US राष्ट्रपति ने अपने मतदाताओं से माँगा विश्वास और सहायता, बोले Trust Me

Janprahar Desk
24 May 2020 10:55 PM GMT
US राष्ट्रपति ने अपने मतदाताओं से माँगा विश्वास और सहायता, बोले Trust Me
x
Donald Trump ने आज बहुत दिनों बाद अपने मतदाताओं के लिए कुछ नयी बात की। आज वो देश के राष्ट्रपति के बजाये एक आगामी चुनाव के उम्मीदवार के तौर पर नज़र आये।इसमें उन्होंने लोगों को उनपर विश्वास करने को कहा है और उनको अंग्रेजी में "trust me" बोला है।

Donald Trump ने आज बहुत दिनों बाद अपने मतदाताओं के लिए कुछ नयी बात की। आज वो देश के राष्ट्रपति के बजाये एक आगामी चुनाव के उम्मीदवार के तौर पर नज़र आये।इसमें उन्होंने लोगों को उनपर विश्वास करने को कहा है और उनको अंग्रेजी में "trust me" बोला है। ऐसा बोलते हुए डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि वो अर्थव्यवस्था को 2021 तक अपने चरम शिखर तक ले जायेंगे। उन्हें भरोसा है कि यदि वो एक बार अर्थव्यवस्था को ठीक कर सकते हैं, तो ये कीर्तिमान दोबारा हासिल करने में कोई समस्या नहीं होगी। 

संपूर्ण विश्व 2019 यानी पिछले साल दिसंबर से Corona Virus से लड़ रहा है । हर देश में असंख्य लोग बेरोज़गार हो रहे हैं और न जाने कितने लोग गरीबी के अन्धकार में ढकेल दिए जा रहे हैं। अगर अमेरिका की बात करें, तो वहां लगभग 3.80 करोड़ लोग अपनी नौकरी से हाथ धो चुके हैं। ऐसे में देश कई दशकों में पहली बार ऐसी भयानक मंदी का दौर झेल रहा है। ऐसी गंभीर और चिंताजनक स्तिथि में USA के 2016 में निर्वाचित राष्ट्रपति Trump ने भविष्य में होने वाली विभिन्न recoveries या यूँ कहिये economic बहालियों के बारे में चर्चा की। जिनके बारे में उनका ये कहना था कि ये सभी योजनाएं तभी काम आएगी यदि वो नवम्बर में एक और सत्र जीतते हैं। 

आगे हुई चर्चा की बात करें तो Donald Trump ने अपने देश के समस्त नागरिकों से कहा कि जो दुःख वे झेल रहे हैं इसका अंदाजा उन्हें भी है परन्तु अब उन्हें इस नुक्सान से उबरना होगा। उन्होंने USA के लोगों को आश्वस्त किया कि उन्हें देश में हो रही तमाम मुश्किलों के बारे में पता है लेकिन देश के सामने अभी great बनना बाकी है। उन्होंने नागरिकों का ढांढस बढ़ाया और इसी लिए उन्होंने अपने देश के नागरिकों को वादा किया कि वो 2021 में अर्थव्यवस्था को बहाल करेंगे और इस वादे के साथ ही उन्होंने नागरिकों से एक और सत्र की मांग की। आपको बता दे कि US में नवम्बर में Presidential चुनाव होने हैं और 2016 में वे presidential चुनाव में Hillary Clinton का हराकर अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे। इसी सिलसिले में उन्होंने अपने मतदाताओं से विश्वास माँगा और सहायता करने का वादा भी किया।

Next Story
Share it