विदेश

शेख हसीना (Sheikh Hasina) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने सीएए CAA और एनआरसी NRC को भारत (India) का आंतरिक मामला करार दिया।

Janprahar Desk
19 Jan 2020 7:50 PM GMT
शेख हसीना (Sheikh Hasina) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने सीएए CAA और एनआरसी NRC को भारत (India) का आंतरिक मामला करार दिया।
x
शेख हसीना (Sheikh Hasina) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) को भारत का आंतरिक मामला करार दिया, लेकिन इसी के साथ यह भी कहा कि कानून आवश्यक नहीं था। सीएए (CAA) के मुताबिक पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना की वजह से 31 दिसंबर 2014 तक वहां

शेख हसीना (Sheikh Hasina) बांग्लादेश की प्रधानमंत्री ने संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) को भारत का आंतरिक मामला करार दिया, लेकिन इसी के साथ यह भी कहा कि कानून आवश्यक नहीं था।

सीएए (CAA) के मुताबिक पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान में धार्मिक प्रताड़ना की वजह से 31 दिसंबर 2014 तक वहां से भारत आए हिंदू, जैन, सिख, पारसी, बौद्ध और ईसाई समुदाय के लोगों को भारतीय नागरिकता दी जाएगी। इस विवादित कानून के खिलाफ भारत में कई जगहों पर प्रदर्शन चल रहे हैं।

भारत (India) के नए नागरिकता कानून के संदर्भ में कहा, हम नहीं समझ रहे हैं कि क्यों (India Gov) ऐसा किया। यह जरूरी नहीं था। उनका यह बयान बांग्लादेश के विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन के उस बयान के बाद आया है कि सीएए (CAA) और एनआरसी (NRC) भारत के आंतरिक मामले हैं.

Next Story
Share it