विदेश

पाकिस्तान :दिखा कट्टरपंथियों का बोलबाला, बंद अहमदिया अर्थशास्त्री का पाक के बिज़निस स्कूल में होने वाला ऑनलाइन सेमिनार।

Janprahar Desk
23 Oct 2020 1:45 PM GMT
पाकिस्तान :दिखा कट्टरपंथियों का बोलबाला, बंद अहमदिया अर्थशास्त्री का पाक के बिज़निस स्कूल में होने वाला ऑनलाइन सेमिनार।
x
आपको बता दें कि, पाकिस्तान के जाने-माने अर्थशास्त्री डॉ आतिफ मियां जोकि अहमदिया समुदाय से संबंधित हैं, के पाकिस्तान स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में होने जा रहे, ऑनलाइन सेमिनार को कट्टरपंथी समूहों के विरोध व दबाव के कारण रद्द करना पड़ा है। 
कराची, 23 अक्टूबर, (एएनआई).

आपको बता दें कि, पाकिस्तान के जाने-माने अर्थशास्त्री डॉ आतिफ मियां जोकि अहमदिया समुदाय से संबंधित हैं, के पाकिस्तान स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में होने जा रहे, ऑनलाइन सेमिनार को कट्टरपंथी समूहों के विरोध व दबाव के कारण रद्द करना पड़ा है।

दरअसल, डॉ आतिफ मियां, आईबीए में `पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था के गिरने के कारणʼ शीर्षक पर, छात्रों से मुखातिब होने जा रहे थे और यह आयोजन 5 नवंबर 2020 को होने वाला था।

मामले की जानकारी, अहमदिया समुदाय से संबंधित, ऑल पार्टी पार्लियामेंट्री ग्रुप के माध्यम से दी गई। जिन्होंने पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों, विशेषतः अहमदिया समुदाय द्वारा झेले जा रहे भेदभाव, बहिष्कार को उजागर किया।

इससे पहले, 2018 में डॉक्टर आतिफ मियां, प्रधानमंत्री इमरान खान के आर्थिक सलाहकार चुने गए थे। परंतु कट्टरपंथियों के भरसक विरोध व दबाव के कारण, उन्हें बर्खास्त कर दिया गया था। इस पर प्रधानमंत्री इमरान खान भी मौन रहे।

यह घटना दर्शाती है कि, पाकिस्तान में किस कदर धार्मिक कट्टरपंथियों, रुढ़िवादियों की पैठ है, जो वहां की सियासत में भी अहम रोल निभाती है। यदि पाकिस्तान को, अपनी अर्थव्यवस्था और समग्र विकास को ऊंचाइयों पर ले जाना है, तो उसे सर्वप्रथम कट्टरपंथियों व आर्मी के देश की लाभकारी गतिविधियों में हस्तक्षेप को कम करना होगा।

Next Story