विदेश

जानिए कोरोना वायरस (Corona Virus) का नया टेस्ट विकसित।

Janprahar Desk
27 March 2020 9:23 PM GMT
जानिए कोरोना वायरस (Corona Virus) का नया टेस्ट विकसित।
x
लगभग समूची दुनिया में कोरोना वायरस (Corona Virus) और उससे पैदा होने वाली बीमारी COVID-19 का खतरा लगातार बढ़ता नज़र आ रहा है, और उसकी वैक्सीन बनाने के साथ-साथ फिलहाल उसकी टेस्ट किट बनाने की कोशिशें भी लगातार जारी हैं, ताकि पुष्टि में लगने वाला समय घटाया जा सके। मौजूदा समय में कोविड-19 के मरीज़

लगभग समूची दुनिया में कोरोना वायरस (Corona Virus) और उससे पैदा होने वाली बीमारी COVID-19 का खतरा लगातार बढ़ता नज़र आ रहा है, और उसकी वैक्सीन बनाने के साथ-साथ फिलहाल उसकी टेस्ट किट बनाने की कोशिशें भी लगातार जारी हैं, ताकि पुष्टि में लगने वाला समय घटाया जा सके। मौजूदा समय में कोविड-19 के मरीज़ की पुष्टि करने में दो दिन या उससे ज़्यादा वक्त लग रहा है, और ऐसे में जर्मनी की एक कंपनी ने दावा किया है कि उनके द्वारा विकसित नई जांच किट से यही टेस्ट सिर्फ ढाई घंटे में रोग की पुष्टि कर देगा।

रॉबर्ट बॉश जीएमबीएच (Robert Bosch GMbH) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) वोल्कमार डेनर ने गुरुवार को एक बयान में दावा किया कि उनकी कंपनी की टेस्ट किट के ज़रिये ढाई घंटे से भी कम समय में कोविड-19 की पुष्टि की जा सकती है, जिससे इस महामारी से जंग में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा, संक्रमित मरीज़ों की पहचान तेज़ी से हो सकेगी, और उन्हें जल्दी आइसोलेट किया जा सकेग।

रॉबर्ट बॉश ने कहा कि इस नए टेस्ट में वाइवालिटिक मॉलीक्यूलर डायगनॉस्टिक्स प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाता है, जिसे बॉश की हेल्थकेयर डिवीजन ने तैयार किया है. इस डिवाइस का इस्तेमाल अस्पतालों, लैबोरेटरियों तथा मेडिकल प्रैक्टिस में फ्लू तथा न्यूमोनिया जैसी बहुत-सी बैक्टीरियल तथा वायरल बीमारियों की पहचान में पहले से किया जा रहा है. यह डिवाइस अप्रैल माह में जर्मनी में उपलब्ध हो जाएगी, और इसे अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में बेचा जाएगा.

मबर्ग ने बॉश के हवाले से बताया है कि बॉश ने इस टेस्ट को वाइवालिटिक के लिए अपने साझीदार और उत्तरी आयरलैंड के मेडिकल उपकरण निर्माता रैन्डॉक्स लैबोरेटरीज़ लिमिटेड के साथ मिलकर विकसित किया है.

Next Story
Share it