विदेश

बाइडेन-हैरिस, ट्रंप-मोदी के संबंधों का भारतीय-अमेरिकियों पर असर नहीं

Janprahar Desk
15 Oct 2020 5:04 PM GMT
बाइडेन-हैरिस, ट्रंप-मोदी के संबंधों का भारतीय-अमेरिकियों पर असर नहीं
x
बाइडेन-हैरिस, ट्रंप-मोदी के संबंधों का भारतीय-अमेरिकियों पर असर नहीं
वाशिंगटन, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। एक नए सर्वेक्षण में यह बात सामने आई है कि भारतीय मूल के अमेरिकी मतदाता इस बात से प्रभावित नहीं होंगे कि वे डेमोक्रेटिक राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन को इसलिए चुनें, क्योंकि उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लड़ रहीं कमला हैरिस भारतीय मूल की हैं। इसी तरह वे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच के रिश्ते से भी अप्रभावित रहेंगे।

अमेरिकन बाजार की बुधवार की रिपोर्ट के मुताबिक, इंडियन अमेरिकन एटिट्यूड्स सर्वे 2020 (आईएएएस) में इस पर भी फोकस किया गया कि ट्रंप-मोदी की दोस्ती होने के कारण बाइडेन प्रशासन अमेरिका-भारत संबंधों का प्रबंधन कैसे कर पाएगा।

अभी अमेरिका के सभी पंजीकृत मतदाताओं का केवल 1 फीसदी भारतीय-अमेरिकी समुदाय का है।

डेटा में दिखाया गया है कि भारतीय-अमेरिकियों का जुड़ाव डेमोक्रेटिक पार्टी के साथ है। इसके अलावा भारतीय-अमेरिकी इस चुनावी चक्र में अमेरिका-भारत संबंधों को एक कम प्राथमिकता वाले मुद्दे के रूप में देखते हैं और वे स्वास्थ्य और अर्थव्यवस्था जैसे राष्ट्रीय मुद्दों को अधिक तवज्जो देते हैं।

पोल के अनुसार, 72 प्रतिशत पंजीकृत भारतीय-अमेरिकी मतदाताओं ने बिडेन को वोट देने की योजना बनाई है, वहीं ट्रंप को केवल 22 प्रतिशत ने। यहां तक कि खुद को निर्दलीय कहने वाले भारतीय-अमेरिकी मतदाताओं ने भी बाइडेन को ही वोट देने का फैसला किया है।

--आईएएनएस

एसडीजे/एसजीके

Next Story
Share it