गूगल, फेसबुक जैसी बड़ी टेक कंपनियों को देना होगा 15 फीसदी टैक्स, G-7 देशों के बीच हुआ करार

जी-7 की शिखर बैठक से पहले होने वाली समीक्षा बैठक में यह फैसला लिया गया है कि दुनिया सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों से 15 फीसदी टैक्स वसूला जाएगा।
 
Apple

जी-7 की शिखर बैठक से पहले होने वाली समीक्षा बैठक में यह फैसला लिया गया है कि दुनिया सबसे बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों से 15 फीसदी टैक्स वसूला जाएगा। इन कंपनियों में गूगल, फेसबुक, एपल और अमेजन जैसी बड़ी अमेरिकी कंपनियां शामिल होगी। 


फिलहाल इस फैसले पर अभी मुहर नहीं लगी है। इस करार पर जी7 की शिखर बैठक में मुहर लगेगी। शिखर सम्मेलन ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बॉरिस जॉनसन की अध्यक्षता में 11-13 जून तक कोर्नवाल में आयोजित किया जाएगा। 

जी-7 समूह में शामिल 7 देशों (ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान) ने 15 फीसदी टैक्स लगाने के ऐतिहासिक वैश्विक करार पर हस्ताक्षर किए है। बैठक में अमेरिका की वित्त मंत्री जैनेट येलेन ने कहा कि इस करार के बाद से कर घटाने की उल्टी स्पर्धा खत्म होगी। इससे दुनिया के अन्य देशों में मिडिल क्लास लोगों के साथ न्याय होगा। 

बता दे कि इस बार का जी-7 सम्मेलन प्रधानमंत्री बॉरिस जॉनसन की अध्यक्षता में 11-13 जून तक कोर्नवाल में आयोजित किया जाएगा। ब्रिटैन ही इस बैठक की मेजबानी कर रहा है। 

​​

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|