Pegasus Spyware से अपने फोन को कैसे बचाएं? 

 
Pegasus Spyware kya hai

हाल ही में अमेरिकी अखबार 'द वाशिंगटन पोस्ट' ने 16 मीडिया संस्थानों के सहयोग से मिलकर 'द पेगासस प्रोजेक्ट' (The Pegasus Project) के नाम से एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी। जिसमें यह दावा किया गया कि इज़राइली सॉफ्टवेयर 'पेगासस स्पाईवेयर' (Pegasus Spyware) के जरिए कई भरतीय राजनेताओं, पत्रकार और महिलाओं का फोन हैक किया गया है। तब से Pegasus Spyware चर्चा का विषय बन गया है।

इससे पहले साल 2019 में Pegasus Spyware के बारे में सुना गया था। तब लोगों ने शिकायत की थी कि उनके Whatsapp को Pegasus Spyware के जरिए हैक किया गया था। हालांकि उस वक्त या मामला ठंडे बस्ते में चला गया था। लेकिन एक बार फिर से Pegasus Spyware का मामला गरमा रहा है। अकसर यह सुनने को मिलता है कि लोगों के फोन हैक हो रहे है लेकिन लोगों को यह नहीं पता होता कि फोन कैसे हैक हो रहा? हालांकि इसका जवाब तो अभी तक खोजा नहीं गया है लेकिन कुछ हद तक सावधानियां बरत कर आप भी अपने फोन को हैक होने से बचा सकते है। तो आइए जानते है कि क्या है Pegasus Spyware? और इससे कैसे बचा जाएं? 

  • Pegasus Spyware क्या है?

Pegasus spyware एक इजराइली ग्रुप NSO द्वारा तैयार किया गया जासूसी सॉफ्टवेयर है। यह किसी भी ऐप के जरिये आपके फोन का एक्सेस ले सकता है। ये आपके मेसेज और कॉल को ट्रेस करने के साथ ही आपके लोकेशन, डेटा और वीडियो कैमरे की एक्टीविटी को भी ट्रैक कर सकता है। यहां तक कि ये सॉफ्टवेयर व्हाट्सऐप की एंड-टू-एंड इंक्रिप्टेड चैट्स को भी एक्सेस कर सकता है। 

शुरुआत में ये बात सामने निकलकर आई थी कि Pegasus spyware सिर्फ आईफोन में ही सेंध लगा सकता है। लेकिन ताजा रिपोर्ट के अनुसार यह एंड्राइड यूजर्स को भी निशाना बना सकता है।

यह भी पढ़ें: बार-बार कॉल या SMS करने वाले हो जाएं सावधान, देना पड़ सकता है 10 हजार रुपए तक का जुर्माना

  • कैसे करें Pegasus Spyware से बचाव?

इससे बचने के लिए सबसे पहले तो आपको अपने समार्टफोन पर चौकन्नी नजर रखनी होगी। अगर आपके पास कोई भी अनचाहा लिंक आता है तो उसपर क्लिक न करें, फौरन उसे डिलीट कर दें। थोड़े-थोड़े दिनों में अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स के पासवर्ड को चेंज करते रहिए। फोन में ऐसे ज्यादातर ऐप का हमेशा अपडेटेड वर्जन आता रहता है, तो अपने ऐप को अपडेट रखें क्योंकि कंपनी समय-समय पर हाई लेवल सिक्योरिटी प्रदान करती रहती है।

बहुत से ऐप ऐसे होते है जो आपसे कई तरह का एक्सेस मांगते है। तो इससे बचे, कभी भी किसी ऐप को अनचाहा एक्सेस न दें। इस तरह से आपके फोन हैक होने के चांस थोड़े कम हो जाते हैं। 

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|