टेक्नोलॉजी

गर्म होने के बाद जेब में फट गया Oneplus Nord 2, जवाब में कंपनी ने सीज एंड डेसिस्ट लेटर भेजा

Nairitya Srivastva
21 Sep 2021 7:16 AM GMT
गर्म होने के बाद जेब में फट गया Oneplus Nord 2, जवाब में कंपनी ने सीज एंड डेसिस्ट लेटर भेजा
x
OnePlus Nord 2 ब्लास्ट केस सामने आया है. ट्विटर पर यूजर ने तस्वीरें शेयर कर बताया था कि उनको फोन फट गया है.

OnePlus Nord 2 Blast Case- OnePlus Nord 2 के एक ग्राहक गौरव गुलाटी ने इस महीने की शुरुआत में दावा किया था कि उनके वनप्लस नॉर्ड 2 में आग लग गई और विस्फोट हो गया. कंपनी पीड़ित के पास पहुंची और मुआवजे की पेशकश की लेकिन गौरव ने प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया और कथित तौर पर उपभोक्ता अदालत में शिकायत दर्ज की. साथ ही अधिकारियों से भारत में वनप्लस नॉर्ड 2 की बिक्री को रोकने के लिए कहा. मोबीटेक क्रिएशन प्राइवेट लिमिटिड, जो भारत में वनप्लस फोन की मार्केटिंग और बिक्री को संभाल रहा है, उन्होंने गौरव गुलाटी को भ्रामक ट्वीट पोस्ट करने और "वनप्लस की सद्भावना और प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के दुर्भावनापूर्ण इरादे से" एक सीज एंड डेसिस्ट लेटर भेजा है.

गौरव गुलाटी ने ट्विटर पर लेटर की फोटो शेयर करते हुए लिखा, 'सत्य परेशान हो सकता है लेकिन पराजित नहीं...मैंने अपने मोबाइल विस्फोट की घटना के बाद जो कुछ भी झेला है, उसके लिए आवाज उठाने के लिए मुझे यह कानूनी नोटिस प्राप्त हुआ है. तो यह वह कीमत है जो मुझे व्हिसलब्लोअर (Whistleblower) होने के लिए चुकानी पड़ी.

सहायता से किया इनकार...

सीज एंड डेसिस्ट लेटर में कंपनी का दावा है कि गौरव गुलाटी ने नुकसान का कोई भी सबूत देने से इनकार कर दिया. ट्विटर पर जो उन्होंने फोटो पोस्ट की थी, उससे पता चलता है कि बैटरी पोल पर एक्सटर्नल फोर्स लगाई गई है. कंपनी ने सहायता करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने साफ मना कर दिया. साथ ही लेटर में कहा गया कि यूजर ने जो भी टिप्पणियां की थीं, वो बिना पुष्टि या पूछताछ के की गई थीं. लेटर में गुलाटी को ट्विटर पोस्ट न करने और पुराने ट्वीट्स को हटाने को कहा और उनकी पोस्ट के लिए बिना शर्त लिखित माफी के लिए भी कहा गया है.

जानिए पूरा मामला...

गौरव गुलाटी नाम के एक ट्विटर यूजर ने दावा किया कि उनके OnePlus Nord 2 यूनिट में आग लग गई और धमाके के साथ फट गया. गौरव ने दावा किया कि डिवाइस के गर्म होने का एहसास उन्हें तब हुआ जब फोन उनकी कोट की जेब में रखा था. इसके बाद गौरव गुलाटी ने कोट को दूर फेंक दिया. जिसमें बाद आग लग गई और फोन कोर्ट चैंबर के अंदर ही फट गया. साथ ही उन्होंने दावा किया कि फोन उस वक्त चार्ज नहीं हो रहा था. फोन में पहले से ही 90 परसेंट बैटरी थी.

गौरव गुलाटी ने अपनाया कानूनी रास्ता

वनप्लस ने गौरव गुलाटी से संपर्क किया है और उनसे अपना डिवाइस जमा करने को कहा. लेकिन गौरव गुलाटी ने कानूनी रास्ता अपनाना सही समझा. उन्होंने अपना जला हुआ OnePlus Nord 2 पुलिस को सौंप दिया है और कंपनी की भारत शाखा के खिलाफ आधिकारिक शिकायत दर्ज की. फिर एक बयान में, वनप्लस ने कहा, "कल शाम, एक व्यक्ति ने हमें ट्विटर पर वनप्लस नॉर्ड 2 के लिए एक कथित विस्फोट मामले के बारे में सूचित किया और हमारी टीम तुरंत वहां पहुंच गई. हम यूजर सेफ्टी के लिए इस तरह के हर दावे को बहुत गंभीरता से लेते हैं. हमारे कई प्रयास के बाद भी फोन की जांच का मौका नहीं दिया गया. ऐसी परिस्थितियों में, हमारे लिए इस दावे की सच्चाई को वैरिफाई करना या मुआवजे के लिए इस व्यक्ति की मांगों को पूरा करना असंभव है.''


ये भी पढ़ें:

Microsoft की ये A1 सर्विस दूर करेगी Passwords याद रखने का झंझट, बेफिक्र होकर चलाएं अपना अकाउंट, जानें तरीका

Amazon Mega Music Fest Sale ! 60% के डिस्काउंट पर खरीदिए ब्राडेंड स्पीकर्स और ईयरफोन्स

New Record! Vodafone-Idea ने 5G ट्रायल में हासिल की 3.7 Gbps की रफ्तार, जानें कैसे और क्या होंगे फायदे

Next Story
Share it