उत्तर-प्रदेश

UP Govt Cabinet Expansion: योगी सरकार जल्द करेगी कैबिनेट विस्तार, जितिन प्रसाद रेस में सबसे आगे

Nairitya Srivastva
26 Sep 2021 9:03 AM GMT
UP Govt Cabinet Expansion: योगी सरकार जल्द करेगी कैबिनेट विस्तार, जितिन प्रसाद रेस में सबसे आगे
x
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार आज कैबिनेट विस्तार (UP Cabinet Exapnsion before Assembly Elctions)कर सकती है. सीएम योगी आदित्यनाथ गवर्नर आनंदीबेन पटेल (UP Governor Anandiben Patel) से मुलाकात कर सकते हैं.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी आदित्यनाथ सरकार किसान सम्मेलन के बाद जल्द ही कैबिनेट विस्तार (Yogi Govt Cabinet Expansion) कर सकती है. सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) आज शाम यूपी की गर्वनर आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर सकते हैं. आज शाम 6 से 7 बजे तक कैबिनेट विस्तार संभव है. राजभवन में तैयारियां शुरू हो गई हैं.

ये नेता ले सकते हैं मंत्री पद की शपथ (Ministers can take oath in Cabinet Expansion)

बता दें कि किसान सम्मेलन के बाद यूपी कैबिनेट का विस्तार (Cabinet Expansion of UP govt) हो सकता है. इसमें 6 से 7 नए मंत्री बनाए जा सकते हैं. इनमें जितिन प्रसाद (Jitin Prasad), संगीता बलवंत बिंद (Sangeeta Balwant Bind), छत्रपाल गंगवार (Chhatrapal Gangwar), एके शर्मा (AK Sharma), संदीप सिंह, बेबी रानी मौर्य (Baby Rani Maurya) और तेजपाल नागर (Tejpal Nagar) को मंत्री पद की जिम्मा सौंपा जा सकता है.

विधानसभा चुनाव से पहले जातीय समीकरण (Caste Equation before Assembly Elections)

बता दें कि यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी जातीय समीकरण (BJP doing Caste Equation) को साधना चाहती है. मंत्री बनने की रेस में जितिन प्रसाद का नाम सबसे आगे चल रहा है. जितिन प्रसाद को मंत्री बनाकर बीजेपी ब्राह्मणों की नाराजगी को दूर करने की कोशिश में है. हालांकि जितिन प्रसाद कांग्रेस से बीजेपी में आए हैं. अब उन्हें बीजेपी में मंत्री पद की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है.

निषाद समाज को खुश करने की बीजेपी की कोशिश (BJP attempt to please Nishad samaj)

वहीं गाजीपुर की सदर सीट से विधायक संगीता बलवंत बिंद को भी मंत्री बनाया जा सकता है. इससे बीजेपी निषाद समाज को खुश (BJP to make Nishad samaj happy) करने की कोशिश करेगी. दादरी से विधायक तेजपाल नागर गुर्जर समाज से संबंध रखते हैं. उन्हें मंत्री बनाकर गुर्जर समाज को साधने की कोशिश होगी. माना जा रहा है कि बीजेपी सभी वर्गों के समीकरण को अपने पक्ष में करने में जुटी है. इसीलिए अलग-अलग समुदाय के मंत्री बनाए जा रहे हैं.

Next Story
Share it