ऐप पर पैसा डबल करने के नाम पर ठगों ने लूटे 250 करोड़ रुपए, रॉ तक पहुंचा मामला

चीन की स्टार्टअप योजना के तहत बने ऐप "पावर बैंक" के जरिए लोगों को पैसे डबल करने का लालच दिया जाता था। पुलिस की छानबीन में 250 करोड़ रुपए की ठगी का मामला सामने आया।
 
Fraud

अगर आप भी किसी पैसा डबल करने वाली ऐप पर पैसा लगाते है तो सावधान हो जाइए, क्योंकि आप के पैसे डूब सकते है। उत्तराखंड पुलिस ने ऐसी ही एक बड़ी ठगी का खुलासा किया है, जिसमें जालसाजों ने 250 करोड़ रुपए की चपत लगा दी है। इस मामले में नोएडा से एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। 

दरअसल चीन की स्टार्टअप योजना के तहत बने ऐप "पावर बैंक" के जरिए लोगों को पैसे डबल करने का लालच दिया जाता था। शुरुआत में कंपनी ने लोगों को 15 दिन में पैसे भी डबल करके दिए, लेकिन बाद में जब लोगों को पैसे मिलना बंद हो गए तो उत्तराखण्ड के एक निवासी से पुलिस में कंप्लेन दर्ज की। जिसके बाद 250 करोड़ रुपए की ठगी का मामला सामने आया। 

15 दिन में पैसा डबल करने का लालच देकर इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए कहा जाता था। इस ऐप के अंदर के तरह के रिचार्ज प्लांस दिए जाते थे, इसके तहत यूजर पैसे इंवेस्ट करते थे। 50 लाख लोगों द्वारा इस ऐप को डाउनलोड भी किया जा चुका है और यह पूरी ठगी मात्र 4 महीने के अंतराल में कई गई है। 

हरिद्वार के एक निवासी ने इस ऐप में पहले 93 हजार और फिर 71 हजार इंवेस्ट किए, 15 दिन बाद पैसा डबल नहीं होने पर उसने पुलिस में कंप्लेन दर्ज करवाई। पुलिस ने मुकदमा दर्ज छानबीन शूरी की तो पता चला कि पैसों को अलग अलग खातों में ट्रांसफर किया गया है। जब लेने देन का हिसाब किया गया तो पता चला कि यह ठगी 250 करोड़ रुपए की है। 

उत्तराखंड एसटीएफ के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि नोएडा से गिरफ्तार किए गए आरोपी के पास से 19 लैपटॉप, 592 सिम कार्ड, 5 मोबाइल फोन, 4 एटीएम कार्ड और 1 पासपोर्ट बरामद हुआ है। यह राशि क्रिप्टो करेंसी में बदलकर विदेश भेजी जा रही है।

फिलहाल इस मामले में रॉ और अन्य जांच एजेंसियों को सूचना दे दी गई है। इस मामले में जिन विदेशी लोगों के नाम सामने आए है उनके दूतावास से संपर्क कर उनकी जानकारी मांगी जा रही है। जल्द ही इस मामले में और गिरफ्तारी की जाएगी। 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|