अन्य राज्य:

कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की रैली में लगे ‘गोली मारो’ के नारे।

Janprahar Desk
1 March 2020 9:02 PM GMT
कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की रैली में लगे ‘गोली मारो’ के नारे।
x
कथित रूप से नफरती भाषण से दिल्ली में भड़की हिंसा अभी भी पूरी तरह से शांत नहीं हुई है. इस बीच आज शाम एक रैली में एक बार फिर से ‘गोली मारो’ का नारा सुनाई दिया. कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की रैली के दौरान यह वाकया हुआ. रैली को संबोधित करते

कथित रूप से नफरती भाषण से दिल्ली में भड़की हिंसा अभी भी पूरी तरह से शांत नहीं हुई है. इस बीच आज शाम एक रैली में एक बार फिर से ‘गोली मारो’ का नारा सुनाई दिया. कोलकाता में गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की रैली के दौरान यह वाकया हुआ. रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने नागरिकता कानून (CAA) के समर्थन में बात की और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर इस कानून को रोकने के लिए ‘दंगों को भड़काने’ और ‘ट्रेनों को जलाने’ का आरोप लगाया. मौके से मिले वीडियो फुटेज में लोगों को भगवा रंग के कपड़े पहने और बीजेपी के झंडे लहराते हुए नारे लगाते हुए देखा जा सकता है. इस दौरान लोगों को यह कहते सुना जा सकता है कि ‘उन सभी को गोली मार दो जो देश को धोखा दे रहे हैं.’

इससे पहले पश्चिम बंगाल में बीजेपी ने ममता सरकार के खिलाफ ‘अन्याय और नहीं’ नाम से अभियान शुरू किया. कोलकाता के शहीद मीनार मैदान में गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैली से ये अभियान शुरू हुआ. अमित शाह ने कहा कि कोलकाता की रैली ममता सरकार में राज्य में बढ़ी गुंडागर्दी के खिलाफ है. शाह ने दावा किया कि बंगाल के विधानसभा चुनाव में बीजेपी दो तिहाई बहुमत से सत्ता में आएगी. ममता पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि यहां राजकुमार को वारिस बनाने की विचारधारा नहीं चलेगी. कोई शहज़ादा यहां का मुख्यमंत्री नहीं बनेगा, यहां का बेटा मुख्यमंत्री बनेगा.

अमित शाह ने यह भी कहा कि ममता बनर्जी सहित पूरा विपक्ष चाहे जितना विरोध कर ले, वो नए नागरिकता कानून के तहत पड़ोसी देशों के आए लोगों को नागरिकता देकर रहेंगे. बीजेपी की इस रैली का लेफ्ट पार्टियां विरोध कर रही हैं. वे बंगाल बीजेपी के हेडक्वार्टर का घेराव कर रहे हैं और लगातार नारेबाज़ी कर रहे हैं.

अमित शाह ने ममता बनर्जी व उनके भतीजे अभिषेक पर निशाना साधते हुए कहा कि अगले साल के विधानसभा चुनाव के बाद कोई शहजादा राज्य का मुख्यमंत्री नहीं बनेगा. विधानसभा चुनाव में भाजपा को ‘दो तिहाई बहुमत’ मिलेगा. बीते साल आम चुनाव होने के बाद बंगाल में पहली जनसभा में भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘लोकसभा चुनाव से पहले ममता दीदी कहती थीं कि हमारे उम्मीदवार अपनी जमानत राशि खो देंगे. लेकिन पहली बार हमने राज्य की 42 में से 18 सीटें जीतीं. ममता दीदी आंकड़े देख सकती हैं. आने वाले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा को पूर्ण बहुमत मिलेगा .. दो-तिहाई बहुमत और सरकार बनाएगी.’

Next Story
Share it