बाबा रामदेव ने अब डॉक्टरों को बताया भगवान का दूत, खुद भी लगवाएंगे कोरोना का टीका

एलोपैथी के खिलाफ विद्रोह करने वाले बाबा रामदेव अब खुद कोरोना का टीका लगवाने वाले है और सभी देश वासियों को टिका लगाने के लिए अपील भी कर रहे है।
 
Ramdev

एलोपैथी के खिलाफ विद्रोह करने वाले बाबा रामदेव अब खुद कोरोना का टीका लगवाने वाले है और सभी देश वासियों को टिका लगाने के लिए अपील भी कर रहे है। बाबा रामदेव ने कहा कि योग बीमारियों में खिलाफ एक ढाल के रूप में काम करता है और रोग से बचाता है।

21 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 से ऊपर सभी लोगों को मुफ्त टिका लगाने का ऐलान किया था, जिसके बाद बाबा रामदेव ने भी लोगों को टिका लगवाने की हिदायत दी है। एलोपैथी पर टिप्पड़ी के मामले में रामदेव ने कहा कि हमारी किसी संगठन के साथ दुश्मनी नहीं है, सभी डॉक्टर्स धरती पर भेजे गए दूत के समान है। हमारी लड़ाई डॉक्टर्स से भी नहीं है, दवाई के नाम पर जो घूसखोरी हो रही है मैं उसके खिलाफ हूं।

बाबा रामदेव ने आगे कहा, अनावश्यक दावा के नाम पर लोगों को बचना चाहिए, हम चाहते है कि दवाओं के नाम पर किसी को परेशान नहीं करना चाहिए। प्रधानमंत्री मोदी ने इसीलिए जन औषधि केंद्र खोला ताकि ड्रैग माफियाओं पर लगाम लगाया जा सकें। इसमें संदेह नहीं कि एलोपैथी आपातकालीन सर्जरी के लिए बेहतर है।

यह भी पढ़े -  मुंबई में बारिश का कहर, चार मंजिला इमारत ढहने से 11 लोगों की मौत, 8 लोग घायल

ज्ञात ही कि बाबा रामदेव ने एलोपैथी पर बड़ा बयान दिया दिया था, जिसके बाद इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के डॉक्टर्स ने बाबा रामदेव के खिलाफ नोटिस भेजकर मानहानि का केस किया था। मामला बढ़ने के बाद केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने बाबा रामदेव को एक पत्र लिखा था, जिसके बाद रामदेव ने अपने बयानों पर खेद प्रकट किया था। 

यह भी पढ़े - ऐप पर पैसा डबल करने के नाम पर ठगों ने लूटे 250 करोड़ रुपए, रॉ तक पहुंचा मामला

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|