महाराष्ट्र

कोरोना काल में ऐसे मनाए दीपावली, जानें क्या हैं नए गाइडलाइन

Janprahar Desk
6 Nov 2020 3:29 PM GMT
कोरोना काल में ऐसे मनाए दीपावली, जानें क्या हैं नए गाइडलाइन
x

महाराष्ट्र में भी राज्य सरकार ने गाइडलाइन जारी की हैं। गाइडलाइंस के मुताबिक, मंदिरों को अभी तक नहीं खोला गया है इसलिए लोगों से अपील की गई है कि हर कोई घर में ही पूजा-पाठ करे।

मुंबई, 3 नवंबर: कोरोना वायरस के वजह से पूरी दुनिया परेशान हो गई है।कोरोना वायरस के वजह से देश में मार्च 2020 से लॉकडाउन लगाया है और लोगों को सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करने के लिए कहा है। अगले हफ़्ते से दिवाली शुरू होने वाली है। दिवाली का त्यौहार लाइट का त्यौहार माना जाता है, इसमें लोग अपने घरों को लाइट और दीप से जगमगाहट कर देते हैं। एक दूसरे से मिलते और दिवाली की शुभकामनाएँ देते हैं।

इस साल अगले हफ़्ते से दीपावली शुरू होने वाली है, लेकिन कोरोना काल में देश में फटाके फोड़ने से सक्त मनाई की गई हैं। महाराष्ट्र में भी राज्य सरकार ने गाइडलाइन जारी की हैं।

गाइडलाइंस के मुताबिक, मंदिरों को अभी तक नहीं खोला गया है इसलिए लोगों से अपील की गई है कि हर कोई घर में ही पूजा-पाठ करे। साथ ही दीपावली के चलते सार्वजनिक जगहों पर भीड़ इकट्ठा न होने और मास्क, सैनिटाइजर के ​इस्तेमाल की भी बात कही गई है।

गाइडलांइस में अन्य मुख्य बातें शामिल हैं-

पटाखे न जलाने की अपील
राज्य सरकार ने कहा है कि पटाखे न जलाएं तो बेहतर होगा क्योंकि इससे पर्यावरण को नुकसान पहुंचता है और वायु व ध्वनि प्रदूषण बढ़ता है।

सोशल डिस्टन्सिंग का ख़्याल रखे
सोशल डिस्टन्सिंग का ख़ास ख़्याल रखना होगा। इस साल दीपावली अपने परिवार के साथ ही मनाए।

सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं कर सकते
दीपावली में सभी अपने परिवार और दोस्तों को मिलाकर दीपावली की शुभेच्छा देते है, लेकिन इस साल आप घर पर ही मनाए सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित ना करें।

दिया जलाकर दीपावली मनाए
दीपावली दीयों का त्योहार है इसलिए ज्यादा से ज्यादा दीप जलाकर त्योहार मनाएं। कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए घर के बूढ़ों और बच्चों को बाहर न जाने दें।

Next Story