महाराष्ट्र

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के 134 वे स्थापना दिन पर क्रांति मैदान मुंबई में कांग्रेस पार्टी द्वारा ‘भारत बचाओ- संविधान बचाओ’ झंडा मोर्चा का आयोजन |

Janprahar Desk
28 Dec 2019 12:58 AM GMT
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के 134 वे स्थापना दिन पर क्रांति मैदान मुंबई में कांग्रेस पार्टी द्वारा ‘भारत बचाओ- संविधान बचाओ’ झंडा मोर्चा का आयोजन |
x
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना ब्रिटिश राज में २८ दिसंबर १८८५ में हुई थी| इसकी स्थापना ए ओ ह्यूम ने की थी| आज दि : 28 दिसम्बर 2019 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को 134 साल पुरे हो चुके| भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस की स्थापना 72 प्रतिनिधियों की उपस्थिति के साथ 28 दिसम्बर 1885 को बॉम्बे के

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना ब्रिटिश राज में २८ दिसंबर १८८५ में हुई थी| इसकी स्थापना ए ओ ह्यूम ने की थी| आज दि : 28 दिसम्बर 2019 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को 134 साल पुरे हो चुके|

भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस की स्थापना 72 प्रतिनिधियों की उपस्थिति के साथ 28 दिसम्बर 1885 को बॉम्बे के गोकुलदास तेजपाल संस्कृत महाविद्यालय में हुई थी। इसके संस्थापक महासचिव (जनरल सेक्रेटरी) ए ओ ह्यूम थे जिन्होंने कलकता के व्योमेश चन्द्र बनर्जी को अध्यक्ष नियुक्त किया था। अपने शुरुआती दिनों में काँग्रेस का दृष्टिकोण एक कुलीन वर्ग की संस्था का था। इसके शुरुआती सदस्य मुख्य रूप से बॉम्बे और मद्रास प्रेसीडेंसी से लिए गये थे। काँग्रेस में स्वराज का लक्ष्य सबसे पहले बाल गंगाधर तिलक ने अपनाया था।

१९४७ में आजादी के बाद, कांग्रेस भारत की प्रमुख राजनीतिक पार्टी बन गई। आज़ादी से लेकर 2014 तक, १६ आम चुनावों में से, कांग्रेस ने ६ में पूर्ण बहुमत जीता हैं और ४ में सत्तारूढ़ गठबंधन का नेतृत्व किया; अतः, कुल ४९ वर्षों तक वह केन्द्र सरकार का हिस्सा रही। भारत में, कांग्रेस के सात प्रधानमंत्री रह चुके हैं; पहले जवाहरलाल नेहरू (१९४७-१९६५) थे और हाल ही में मनमोहन सिंह (२००४-२०१४) थे। २०१४ के आम चुनाव में, कांग्रेस ने आज़ादी से अब तक का सबसे ख़राब आम चुनावी प्रदर्शन किया और ५४३ सदस्यीय लोक सभा में केवल ४४ सीट जीती। और 2019 में 543 सीटों में से कांग्रेस पार्टी को 52 सीटे मिली है |

देश में हो रहे दंगलोके कारण कल गोकुलदास तेजपाल हॉल में जा के कांग्रेस के कुछ नेताओंने कांग्रेस स्थापना दिवस कार्यक्रम और ‘भारत बचाओ- संविधान बचाओ’ फ्लैग मोर्चा की तैयारियों की समीक्षा करने के लिए गोकुलदास तेजपाल हॉल क्रांति मैदान पर गए | कल क्रांति मैदान पर ‘भारत बचाओ- संविधान बचाओ’और तिरंगा मोर्चा का आयोजन होने वाला है |

Next Story