महाराष्ट्र

'मुंबई को कर्नाटक में शामिल किया जाना चाहिए': डिप्टी सीएम लक्ष्मण सावदी

Janprahar Desk
28 Jan 2021 2:34 PM GMT
मुंबई को कर्नाटक में शामिल किया जाना चाहिए: डिप्टी सीएम लक्ष्मण सावदी
x
आज कर्नाटक के डिप्टी सीएम लक्ष्मण सावदी ने कहा हैं कि 'मुंबई को कर्नाटक में शामिल किया जाना चाहिए। जब तक ऐसा नहीं किया जाता है, मैं केंद्रीय सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह मुंबई को केंद्रशासित प्रदेश घोषित करे।'

महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच सीमा विवाद को लेकर दोनों राज्यों के नेताओं के बीच लड़ाई और भी बढ़ गई है। एक तरफ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मांग की हैं कि कर्नाटक के मराठी भाषी बहुल इलाकों को सुप्रीम कोर्ट का अंतिम फैसला आने तक केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया जाना चाहिए। वहीँ कर्नाटक के डिप्टी सीएम लक्ष्मण सावदी का कहना हैं कि मुंबई को कर्नाटक में शामिल किया जाना चाहिए।

आज कर्नाटक के डिप्टी सीएम लक्ष्मण सावदी ने कहा हैं कि 'मुंबई को कर्नाटक में शामिल किया जाना चाहिए। जब तक ऐसा नहीं किया जाता है, मैं केंद्रीय सरकार से अनुरोध करता हूं कि वह मुंबई को केंद्रशासित प्रदेश घोषित करे।'


कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा ने गुरुवार को कहा, 'कर्नाटक, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, हम सब भाई हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने जो भी कहा है, हम उसकी निंदा करते हैं।'


उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘‘जब मामले की सुनवाई उच्चतम न्यायालय में चल रही है, कर्नाटक ने बेलगाम का नाम बदलकर उसे अपनी दूसरी राजधानी घोषित कर दी और वहां विधानमंडल की इमारत का निर्माण किया और वहां विधानमंडल का सत्र आयोजित किया। यह अदालत की अवमानना है।’’

उन्होंने कहा, "हम शपथ लें कि जबतक जीतेंगे नहीं आराम नहीं करेंगे। अगर लंबित मुद्दे इस सरकार (एमवीए की) के कार्यकाल में नहीं सुलझे तो कभी नहीं सुलझेंगे।"

उद्धव ठाकरे ने आरोप लगाते हुए कहा, "कर्नाटक में किसी भी पार्टी की सरकार या मुख्यमंत्री हो, उनकी एक समानता होती है और वह है मराठी लोगों और भाषा पर अत्याचार।"

अन्य खबरें:

Next Story