महाराष्ट्र

Maharashtra: अपंग आदमी ने चलती ट्रैन पकड़ने की कोशिश, पुलिस ने बचाई जान, वीडियो हो रहा हैं वायरल

Janprahar Desk
6 Feb 2021 11:15 AM GMT
Maharashtra: अपंग आदमी ने चलती ट्रैन पकड़ने की कोशिश, पुलिस ने बचाई जान, वीडियो हो रहा हैं वायरल
x
एक घटना शुक्रवार को पनवेल स्टेशन पर हुआ था जब एक अपंग व्यक्ति प्लेटफार्म नंबर सात पर चलती ट्रैन पकड़ने की कोशिश कर रहा था। चलती ट्रैन वह व्यक्ति पकड़ नहीं पाया और निचे गिर गया तब रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने उसकी जान बचाई।

मुंबई की भागती जिंदगी के साथ चलने के लिए मुंबईकर अक्सर दौड़ती बस या ट्रैन पकड़ने की कोशिश करते है। लेकिन तब यह भूल जाते है कि चलती ट्रैन पकड़ने से उनकी जान भी जा सकती है। स्टेशन से अक्सर ऐसे वीडियो सामने आते रहते है जहां पुलिस या रेलवे सुरक्षा बल के जवान लोगों को बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल देते है।

ऐसी ही एक घटना शुक्रवार को पनवेल स्टेशन पर हुआ था जब एक अपंग व्यक्ति प्लेटफार्म नंबर सात पर चलती ट्रैन पकड़ने की कोशिश कर रहा था। चलती ट्रैन वह व्यक्ति पकड़ नहीं पाया और निचे गिर गया तब रेलवे सुरक्षा बल के जवानों ने उसकी जान बचाई।

यह घटना पनवेल स्टेशन पर हुआ, इस वीडियो में आप देख सकते है जब ट्रैन चल रही थी तब अचानक एक अपंग व्यक्ति दौड़कर आता है और चलती ट्रैन पकड़ने की कोशिश करता है। अपंग होने के वजह वह ट्रैन पकड़ नहीं पाते है और स्टेशन पर गिर जाते है। तब रेलवे सुरक्षा बल के जवान दौड़कर आता है और उस यक्ति को गिरने से बचा लेता है।

यह घटना पनवेल रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों में रिकॉर्ड हो गई। यहां देखिये वीडियो-


हाल ही में दहिसर स्टेशन पर भी ऐसा हादसा हुआ था

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) के एक कांस्टेबल ने मुंबई के दहिसर रेलवे स्टेशन पर एक 60 वर्षीय व्यक्ति की मदद कर उसकी जान बचाई है। दहिसर स्टेशन से एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

इस वायरल वीडियो में आप देख सकते हैं कि उस बुजुर्ग का रेलवे ट्रैक से प्लेटफार्म पर आने की कोशिश करता है। लेकिन उसका चप्पल ट्रैक में अटक जाता है, वह चप्पल उठाने तक वहां पर ट्रैन आ जाती है। ट्रैन आते देख वह बुजुर्ग प्लेटफार्म पर चढ़ने की कोशिश करता है लेकिन चढ़ नहीं पाता। जिसके बाद कांस्टेबल भागकर आता है और बुजुर्ग को ऊपर खिंच उसकी जान बचा लेता है।


भारतीय रेलवे के दिशा-निर्देशों के अनुसार, रेलवे ट्रैक को पार करना एक दंडनीय अपराध है। अधिनियम को भारतीय रेलवे के 147 की धारा के तहत अपराध के रूप में वर्गीकृत किया गया है जिसमें छह महीने तक कारावास और 1,000 रुपये तक का जुर्माना है। भारतीय रेलवे अधिनियम केवल पैदल पुल और सबवे का उपयोग करके रेलवे पटरियों के बीच क्रॉसिंग और यात्रा की अनुमति देता है।

अन्य खबरें:

Next Story