महाराष्ट्र

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) ने राज ठाकरे (Raj Thackeray) पर साधा निशाना।

Janprahar Desk
24 Jan 2020 9:55 AM GMT
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) ने राज ठाकरे (Raj Thackeray) पर साधा निशाना।
x
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) ने मुंबई (Mumbai) में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा है. उन्होंने MNS प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) पर भी तंज कसा. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपना भगवा झंडा नहीं बदला. मेरा रंग अंदर और बाहर दोनों

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) ने मुंबई (Mumbai) में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा है. उन्होंने MNS प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) पर भी तंज कसा. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपना भगवा झंडा नहीं बदला. मेरा रंग अंदर और बाहर दोनों समान है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) ने बालासाहेब ठाकरे की जयंती पर मुंबई में एक सभा को संबोधित किया. हिंदू भाइयों और बहनों के साथ अपने भाषण की शुरुआत करने वाले उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमने हिंदुत्व नहीं छोड़ा है. इस दौरान उन्होंने MNS प्रमुख राज ठाकरे पर भी तंज कसा. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अपना भगवा झंडा नहीं बदला. मेरा रंग अंदर और बाहर दोनों समान है.

NCP और कांग्रेस के साथ सरकार बनाने वाली शिवसेना (ShivSena) पर बीजेपी (BJP) हिंदुत्व के मुद्दे पर निशाना साध चुकी है. उद्धव ठाकरे ने कहा कि 2014 में ऐसी चर्चाएं थीं कि हम कांग्रेस के साथ जाना चाहते थे, ऐसा इसलिए था क्योंकि बीजेपी ने एक हिंदुत्व सहयोगी के साथ संबंध तोड़ लिए थे.

बता दें कि 2014 के विधानसभा चुनाव में 125 सीट जीतने वाली बीजेपी एनसीपी (NCP) के समर्थन से सरकार बनाई थी. एनसीपी (NCP) ने सरकार को बाहर से समर्थन दिया था. हालांकि बाद में शिवसेना बीजेपी के साथ गठबंधन कर सरकार में शामिल हो गई थी.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) ने आगे कहा कि मैं जिम्मेदारी से कभी नहीं भागूंगा. मैं विश्वास दिलाता हूं कि यह वादे पूरा करने की शुरुआत है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray ) कहा कि मैंने जिम्मेदारी स्वीकार कर ली, क्योंकि हमारे दोस्त ने हमें बालासाहेब के कमरे में एक वादा किया जो एक मंदिर की तरह है और यह साबित करने की कोशिश की कि मैं एक झूठा हूं. लेकिन मैं सिर्फ उद्धव ठाकरे नहीं बल्कि उद्धव बालासाहेब ठाकरे हूं. मैंने उन लोगों के साथ जाने का फैसला लिया.

Next Story