सुशिल कुमार ने सागर धनखड़ को अगवा कर स्टेडियम ले आए और फिर उसे...'

ओलंपियन सुशील कुमार (Sushil Kumar) और उसके दोस्त को दिल्ली से जूनियर पहलवान सागर धनखड़ (Sagar Dhankar) हत्याकांड में गिरफ्तार कर लिया है।
 
सुशिल कुमार ने सागर धनखड़ को अगवा कर स्टेडियम ले आए और फिर उसे...'

ओलंपियन सुशील कुमार (Sushil Kumar) और उसके दोस्त को दिल्ली से जूनियर पहलवान सागर धनखड़ (Sagar Dhankar) हत्याकांड में गिरफ्तार कर लिया है। सुशिल कुमार उस रात जो कुछ भी हुआ उसका खुलासा पुलिस के सामने किया है।

ज़ी न्यूज़ रिपोर्ट के मुताबिक सुशिल कुमार ने बदले के भावना में सागर और उसके दोस्तों के पिटाई की थी, वे उन्हें जान से मारना नहीं चाहते थे। 4 मई को सागर की सिर पे चोट लगने से मौत हो गई। 

दरअसल वारदात वाले दिन हुआ यूं गैंगस्टर काला जठेड़ी के भांजे सोनू, रविंद्र और अन्य का एक फ्लैट में सुशिल कुमार के साथ झगड़ा हो गया। उन्होंने सुशिल के शर्ट का कॉलर पकड़ा और धक्के मारकर उसके वहां से जाने के लिए कहा।

सुशिल कुमार उस समय वहां से चुपचाप चला गया। लेकिन उसे बदले की भावना जग गई थी उसने उसी दिन हरयाणा से कुछ लोगों को दिल्ली आने के लिए कहा। 

वे लोग वहां पहुंचे और शराब पी और खाना खाया। इसके बाद वे लोग अपने गाड़ियों में सवार होकर रात 12 बजे शालीमारबाग में रविंद्र के घर पर पहुंचे। उसे और उसके साथी घर के निचे से अगवा कर लिया।

उसके बाद वे मॉडल टाउन स्थित सोनू के फ्लैट के पास पहुंचे। वहां से सोनू, सागर धनखड़, अमित और भक्तु को कारों में बैठाकर छत्रसाल स्टेडियम ले आए। तभी करीब एक बज गए थे।

स्टेडियम के पार्किंग में सुशिल और दोस्तों ने सभी को घेर कर हॉकी स्टिक से पिटाई की। इस दौरान सागर को सिर में गहरी चोट आई। उसके बाद उसे जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया, वहां से उसे एम्स ट्रॉमा सेंटर में शिफ्ट किया जहां उसकी मौत हो गई।

वहीँ पुलिस कहा कहना हैं कि सुशिल कुमार जब दिल्ली आया था तब उसके साथ पहलवान नहीं थे। स्टेडियम में सोनू, सागर, अमित, भक्तु, रविंद्र और विकास से कहासुनी हो गई। और वहां उसे अपमानित किया गया। उस समय सुशिल स्टेडियम से चला गया लेकिन तुरंत उसने बदला लेने की ठान ली।

अन्य खबरें:

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|