छत्तीसगढ़

ब्राह्मण समाज को लेकर विवादित टिप्पणी कर फंसे छत्तीसगढ़ CM के पिता, FIR पर हुए गिरफ्तार

Nairitya Srivastva
7 Sep 2021 11:08 AM GMT
ब्राह्मण समाज को लेकर विवादित टिप्पणी कर फंसे छत्तीसगढ़ CM के पिता,  FIR पर हुए गिरफ्तार
x
छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता ने ब्राह्मण समाज के खिलाफ टिप्पणी की. जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को गिरफ्तार कर लिया गया है. नंद कुमार बघेल ने कथित तौ पर ब्राह्मण समाज के खिलाफ टिप्पणी की जिसको लेकर रायपुर के डीडी नगर पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया था. नंद कुमार बघेल की विवादित टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

'सर्व ब्राह्मण समाज' की शिकायत पर FIR…

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 'सर्व ब्राह्मण समाज' की शिकायत पर डीडी नगर थाने की पुलिस ने शनिवार देर रात 86 वर्षीय नंद कुमार बघेल के खिलाफ FIR दर्ज की थी. अधिकारी ने बताया कि नंद कुमार बघेल के खिलाफ IPC की धारा- 153A (विभिन्न समूहों के बीच धर्म, जाति, जन्मस्थान, निवास और भाषा के आधार पर वैमनस्य पैदा करना) और धारा-505 (1) (B) के तहत मामला दर्ज किया गया है. शिकायत में संगठन ने आरोप लगाया कि हाल में मुख्यमंत्री के पिता ने ब्राह्मणों को विदेशी बताकर लोगों से उनका बहिष्कार करने की अपील की. उन्होंने कथित तौर पर लोगों से ब्राह्मणों को गांव में घुसने नहीं देने का भी आह्वान किया.


CM भूपेश बघेल ने किया पिता से किनारा…

अधिकारी के मुताबिक नंद कुमार बघेल ने कथित तौर पर लोगों से अपील की कि वे ब्राह्मणों को देश से 'निकालें.' उन्होंने शिकायत के हवाले से बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पिता ने पहले भी भगवान राम के बारे में कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी की थी. अधिकारी ने बताया कि संगठन ने अपनी शिकायत में कहा कि मुख्यमंत्री के पिता की कथित टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया पर उपलब्ध है. पुलिस के मुताबिक नंद कुमार बघेल ने कथित टिप्पणी हाल में उत्तर प्रदेश में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए की. पिता की टिप्पणी से उपजे विवाद के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को भी सफाई देनी पड़ी उन्होंने कहा कि पिता की टिप्पणी से वे बेहद दुखी हैं.

CM के पिता के साथ वैचारिक मतभेद…

लगातार सवाल उठ रहे थे कि नंद कुमार बघेल के खिलाफ कार्रवाई नहीं की जाएगी क्योंकि वह मुख्यमंत्री के पिता हैं. इसके बाद भूपेश बघेल को ने कहा, 'मेरी सरकार में सभी व्यक्ति बराबर हैं. सभी को पता है कि मेरे पिता के साथ वैचारिक मतभेद हैं. हमारे राजनीतिक विचार और विश्वास बहुत अलग हैं. मैं एक बेटे के तौर पर उनका सम्मान करता हूं, लेकिन एक मुख्यमंत्री के नाते मैं उन्हें ऐसी गलतियों के लिए माफ नहीं कर सकता जिससे कानून व्यवस्था प्रभावित हो सकती है.' मुख्यमंत्री ने कहा था, 'मेरी सरकार में कोई भी कानून से ऊपर नहीं है, भले वह मुख्यमंत्री का 86 वर्षीय पिता ही क्यों न हो.'


ये भी पढ़ें:

BJP का दो दिवसीय चिंतन शिविर: JP Nadda के साथ बस्तर में अगली जीत का ब्लू प्रिंट होगा तैयार

अजीत जोगी की पार्टी का विलय संभव, भूपेश बघेल सरकार पर नहीं आने देंगे कोई आंच- रेणु जोगी

छतीसगढ़ में कोयला खादानों की लिस्ट बदली, लेकिन स्थिति

Next Story