पुराने दिनों को याद कर छलका सचिन का दर्द, कहा- मैच से एक रात पहले मेरे साथ ये सब होता था

 
Sachin tendulkar

क्रिकेट का भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर आज किसी परिचय के मोहताज नहीं है। अपने शानदार खेल से गेंदबाजों की नींद हराम करने वाले सचिन तेंदुलकर ने हाल ही एक खुलासा करते हुए बताया है कि 10 - 12 सालों तक उनकी भी नींद हराम  हुई है। 

क्रिकेट के मुद्दे पर बेबाकी से अपनी राय रखने वाले सचिन तेंदुलकर ने अपने पुराने दिनों का दर्द बयां करते हुए बताया है कि उनकी रातों की नींद हराम हो जाया करती थी। 

सचिन ने एक इंटरव्यू में बताया कि उन्होंने कई सालों तक मानसिक तनाव झेला है। सचिन ने बताया कि मैच से एक रात पहले उन्हें नींद नहीं आती थी। रात भर उन्हें अगले दिन के परफॉर्मेन्स की चिंता सताती थी। यह सिलसिला उनके साथ 10- 12 सालों तक चला। हालांकि इस समस्या से उन्होंने निजाद भी पाई।

सचिन ने बताया कि मैच से पहले उन्हें चिंता होती थी। वह शरीर के साथ मानसिक रूप से भी तैयार होते थे। सचिन ने कहा, मैं कोशिश करता था शांत रहने की, फिर धीरे धीरे मैनें उन चीजों के बारे में सीखा। एक बात की चिंता मुझसे हमेशा सताती थी कि मैं लोगों की उम्मीदों के बारे में सोचूं या फिर अपनी खुद से की गई अपेक्षाओं पर ध्यान दूं। फिर मैंने खुद की अपेक्षाओं पर ध्यान देने का फैसला किया। मैनें खुद को हमेशा अच्छा प्रदर्शन करने के लिए झोंका। 

यह भी पढ़ेक्रिकेट को अलविदा कहने के बाद भी सचिन तेंदुलकर ने कुमार संगकारा को पछाड़ा, बन गए नंबर वन

सचिन ने यह भी बताया कि शुरुआत में मैं हमेशा मैच के बारे में सोचता रहता था। लेकिन फिर मुझे बाद में एहसास हुआ कि मैं इस तरह के मैच के लिए मैं तैयार हूं। मैं मैच से पहले वो सब करता था जो मुझे अच्छा लगता था, लेकिन उन हालातों से मैंने लड़ना बंद कर दिया। 

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|