धर्म

शरद पूर्णिमा  : सभी श्रद्धालुओं ने प्रयागराज और वाराणसी पहुंच, गंगा में स्नान-दान किए।

Janprahar Desk
30 Oct 2020 5:04 PM GMT
शरद पूर्णिमा  : सभी श्रद्धालुओं ने प्रयागराज और वाराणसी पहुंच, गंगा में स्नान-दान किए।
x
आपको बता दें कि, शुक्रवार को, भारतीय हिंदू त्योहार शरद पूर्णिमा के अवसर पर, सभी हिंदू भक्त-जनों ने वाराणसी व प्रयागराज में गंगा में पवित्र डुबकी लगाकर दान पुण्य किए। 

वाराणसी/प्रयागराज, 30 अक्टूबर

आपको बता दें कि, शुक्रवार को, भारतीय हिंदू त्योहार शरद पूर्णिमा के अवसर पर, सभी हिंदू भक्त-जनों ने वाराणसी व प्रयागराज में गंगा में पवित्र डुबकी लगाकर दान पुण्य किए।

ध्यान रहे कि, भारतीय हिंदू कैलेंडर के अनुसार, अश्विन माह की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है। दरअसल, यह फसलों के घर आने का उत्सव भी है, जिसे मां लक्ष्मी को ध्यान में रखकर मनाया जाता है, जो बंगाली समुदाय में अधिक लोकप्रिय हैं। धार्मिक मान्यता के अनुसार, शरद पूर्णिमा के दिन गंगा में, अमृत की कुछ बूंदें आकर लोपित होती हैं। इसी कारण गंगा में डुबकी मारने का चलन है।



Next Story