नए कैबिनेट विस्तार से पहले रमेश पोखरियाल और संतोष गंगवार ने मोदी मंत्रिमंडल से दिया इस्तीफा

 
रमेश पोखरियाल और संतोष गंगवार

माना जा रहा है कि आज शाम 6 बजे के करीब मोदी के नए मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा। जानकारी के अनुसार पीएम मोदी के आवास पर नए और पुराने मंत्रियों का जमावड़ा भी लग चुका है। लेकिन उससे पहले दो बड़े मंत्रियों ने मंत्रिमंडल के पद से इस्तीफा दे दिया है। अब यही माना जा रहा है कि मोदी के नए कैबिनेट में युवा चेहरों को शामिल किया जाएगा। 

बुधवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए मंत्रिमंडल से इस्तीफा दिया है। वहीं, केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने उम्र का हवाला देते हुए मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। इन दोनों मंत्रियों के इस्तीफे से साफ हो गया है कि यूपी कोटे से किसी नए चेहरे को शामिल किया जा सकता है। 

माना जा रहा है कि महिला एवं बाल विकास मंत्रालय से देबाश्री चौधरी और बीजेपी नेता और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की भी मंत्रिमंडल पैड से छुट्टी जो सकती है। दोनों ने मंत्रियों को दिल्ली बैठक में नहीं बुलाया गया है। 

अटकलें लगाई जा रही है कि नए मंत्रिमंडल में करीब 17 से 22 नए मंत्री शपथ ले सकते है। माना यही जा रहा है कि नया मंत्रिमंडल युवाओं से भरा हुआ होगा। मोदी कैबिनेट में विस्तार के बाद अनुसूचित जाति के 12 मंत्री हो सकते हैं। ये सभी नेता अलग अलग राज्यों से होंगे। 

यह भी पढें: छोटे दलों को रिझाने की जुगत में भाजपा, मोदी के नए मंत्रिमंडल विस्तार में यूपी से इन्हें मिल सकती है जगह

खबर यह भी है कि जिन मंत्रियों के पास ज्यादा विभाग है, उनके विभाग काम करके नए नेताओं को सौंपे जा सकते है। अगके साल 6 राज्यों (यूपी, उत्तराखंड, गुजरात, गोवा, हिमाचल प्रदेश और पंजाब) में चुनाग है तो इन राज्यों के नेताओं को तरजीह दी जा सकती है। 

खबर है कि यूपी में सहयोगी पार्टी अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल को मंत्री बनाया जा सकता है। कहा जा रहा है कि यूपी से 3 से 4 मंत्रियों को मंत्रीमंडल में जगह मिल सकती है। भाजपा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर छोटे दलों को अब एनडीए के कुनबे में शामिल करना चाहती है। 

वर्तमान में मंत्रिमंडल में 53 मंत्री है। कयास लगाए जा रहे है इसमें 28 मंत्रियों को और बढ़ाया जा सकता है। तो इस हिसाब से केंद्रीय मंत्रिमंडल में 81 सदस्य हो सकते है।

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|