राजनीती

संसद के मानसून सत्र की तैयारियाँ पहुंची अंतिम चरण में: चेंबर में लगेंगी 4 बड़ी स्क्रीने

Janprahar Desk
16 Aug 2020 6:13 PM GMT
संसद के मानसून सत्र की तैयारियाँ पहुंची अंतिम चरण में: चेंबर में लगेंगी 4 बड़ी स्क्रीने
x
कोरोना संक्रमण के कारण संसद सदन की मीटिंग बिना किसी परेशानी के करवाने की पूरी कोशिश की जा रही है और इसके लिए तैयारियां भी चल रही हैं। माना जा रहा है कि संसद का सत्र अगस्त के तीसरे सप्ताह में हो सकता है ।इसी संदर्भ में राज्यसभा चेंबर में चार बड़ी स्क्रीन और इसके साथ ही राज्य सभा गैलरी में एक बड़ी और चार छोटी स्क्रीन लगाने का काम चल रहा है।

कोरोना संक्रमण के कारण संसद सदन की मीटिंग बिना किसी परेशानी के करवाने की पूरी कोशिश की जा रही है और इसके लिए तैयारियां भी चल रही हैं। माना जा रहा है कि संसद का सत्र अगस्त के तीसरे सप्ताह में हो सकता है ।इसी संदर्भ में राज्यसभा चेंबर में चार बड़ी स्क्रीन और इसके साथ ही राज्य सभा गैलरी में एक बड़ी और चार छोटी स्क्रीन लगाने का काम चल रहा है।

संसद के मानसून सत्र को लेकर सरकार काफी सोच विचार कर रही है ।सरकार सदन को प्रतिदिन लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही 4- 4 घंटे के लिए आयोजित करने पर विचार कर रही है।

सूत्रों के अनुसार मानसून सत्र को लेकर केंद्र सरकार इस प्रस्ताव पर अभी विचार कर रही है और इस मामले में अंतिम निर्णय लिया जाना अभी बाकी है। कोरोना महामारी के कारण संसद के मानसूत्र सत्र में पहले ही विलंब हो चुका है। इसके अगस्त के आखिरी सप्ताह या सितंबर के पहले सप्ताह से शुरू होने की उम्मीद है।

इसके अलावा सदन के चैंबर से ऑफिशियल गैलरी को अलग करने के लिए पॉली कार्बोनेट शीट लगाई जा रही है। 1952 के बाद से संसद के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है जब संसद सत्र के लिए दोनों सदनों के कक्ष (चैंबर) और गैलरी (दीर्घा) का इस्तेमाल हो रहा है।इस तरह के इंतजाम खासतौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का सही से पालन हो सके उसको ध्यान में रखकर किए जा रहे हैं।

राज्यसभा 60 सदस्यों को राज्यसभा के चेंबर में और 51 सदस्यों को राज्यसभा गैलरी में बैठाया जाएगा, जबकि बाकी के 132 सदस्यों को लोकसभा के चेंबर में बैठाया जाएगा।

Next Story