राजनीती

कोलकाता सीबीआई दफ़्तर के बाहर TMC कार्यकर्ताओं का हंगामा, ममता बनर्जी ने दिया धरना।

Janprahar Desk
17 May 2021 8:51 PM GMT
कोलकाता सीबीआई दफ़्तर के बाहर TMC कार्यकर्ताओं का हंगामा, ममता बनर्जी ने दिया धरना।
x
कोलकाता सीबीआई दफ़्तर के बाहर TMC कार्यकर्ताओं का हंगामा, ममता बनर्जी ने दिया धरना।

सोमवार को पश्चिम बंगाल के नारदा केस में सीबीआई ने ममता बनर्जी की सरकार के मंत्री सुब्रत मुख़र्ज़ी, फिरहाद हाकिम, विधायक मदन मित्रा और कोलकाता के पूर्व महापोर सोवन चटर्ज़ी को पूछताछ के बाद गिरफ़्तार किया है।सीबीआई ने इन चारों नेताओ की कोर्ट से कस्टडी माँगने की योजना बनाई है।

इसी बीच मिलीं जानकारी के अनुसार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी CBI के दफ़्तर पहुँच गई और उन्होंने सिर्फ़ TMC कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई होने और टीएमसी से भाजपा में गए नेता सुभेंदु अधिकारी और मुकुल रॉय पर कार्रवाई ना करने पर सीबीआई अधिकारियों का विरोध किया है।

उन्होंने इस मामले को केंद्र की साज़िश कहा है और इसका विरोध करने वह निज़ाम पैलेस की 15 वीं मंज़िल पर मौजूद CBI के भ्रष्टाचार निरोध दफ़्तर के बाहर धरना देकर कर रही है। मंत्रीयो की गिरफ़्तारी पर ममता ने सीबीआई को कहा की उन्हें गिरफ़्तार कर लिया जाए लेकिन उनके मंत्रीयो को नहीं।

बता दें, सीबीआई की टीम सोमवार सुबह फिरहाद हकीम के घर पहुँची थी और तलाशी के बाद उन्हें अपने साथ ले जाने लगी इस दौरान हकीम ने कहा की उन्हें नारदा घोटाले में गिरफ़्तार किया जा रहा है।इसके बाद सीबीआई सुब्रत मुख़र्ज़ी और मदन मित्रा को भी दफ़्तर ले पहुँची और इनके अलावा पूर्व भाजपा नेता सोवन चटर्ज़ी के घर छापेमारी कर उन्हें भी CBI दफ़्तर लाया गया । केंद्रीय जाँच एजेन्सी ने हाल ही में राज्य के गवर्नर जयदीप धनखड से नारदा स्टिंग के मामले में इन चारों नेताओ के ख़िलाफ़ मूकदमा चलाने की अनुमति माँगी थीं। ये सभी उस वक्त मंत्री थे जब कथित स्टिंग टेप सामने आया था।

नारदा न्यूज़ पोर्टल ने 2016 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले स्टिंग ऑपरेशन के टेप जारी किए, जो 2014 में रेकोर्ड किए गए थे। टेप के हवाले से तृणमूल के मंत्री, सांसद और विधायकों पर डमी कंपनियों से कैश लेने के आरोप लगाए गए थे। कोलकाता हाई कोर्ट ने 2017 में इस मामले में CBI जाँच के निर्देश दिए थे।

बताया जा रहा है मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस मामले को केंद्र की साज़िश कहा है और इसका विरोध करने वह निज़ाम पैलेस की 15 वीं मंज़िल पर मौजूद CBI के भ्रष्टाचार निरोध दफ़्तर के बाहर धरना देकर कर रही है। इसी बीच टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा CBI दफ़्तर के बाहर पथराव भी किया जा रहा है और पुलिस के बल प्रयोग करने की भी ख़बर है।

Next Story