मायावती ने ATS के आपरेशन को लिया आड़े हाथों, पूछा- चुनाव करीब आते ही ऐसी कार्रवाई क्यों होती है

 
Mayawati

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बाद अब सपा सुप्रीमों मायावती ने भी लखनऊ में ATS द्वारा किए गए आपरेशन पर सवाल उठाए है। उन्होंने इसे चुनावी मुद्दे से जोड़ते हुए कहा, जब विधानसभा चुनाव नजदीक आता है तभी ऐसी कार्रवाई क्यो की जाती है। इससे लोगों के मन में संदेह पैदा होता है।

सपा अध्यक्ष मायावती ने सोमवार को एकसाथ दो ट्वीट किए उन्होंने पहले ट्वीट में लिखा, "यूपी पुलिस का लखनऊ में आतंकी साजिश का भण्डाफोड़ करने व इस मामले में गिरफ्तार दो लोगों के तार अलकायदा से जुड़े होने का दावा अगर सही है तो यह गंभीर मामला है और उचित कार्रवाई होनी चाहिए वरना इसकी आड़ में कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए जिसकी आशंका व्यक्त की जा रही है।"

वहीं उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा, "यूपी विधानसभा आमचुनाव के करीब आने पर ही इस प्रकार की कार्रवाई लोगों के मन में संदेह पैदा करती है। अगर इस कार्रवाई के पीछे सच्चाई है तो पुलिस इतने दिनों तक क्यों बेखबर रही? यह वह सवाल है जो लोग पूछ रहे हैं। अतः सरकार ऐसी कोई कार्रवाई न करे जिससे जनता में बेचैनी और बढ़े।"

ATS के इस आपरेशन पर अखिलेश यादव ने भी सवाल उठाते हुए कहा था कि उन्हें यूपी पुलिस पर अब भरोसा नहीं रहा।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सीएम केजरीवाल का ऐलान, 2022 में AAP की सरकार बनी तो 300 यूनिट फ्री बिजली देंगे

ज्ञात हो कि एटीएस की टीम ने रविवार को सर्च ऑपेरशन चलाकर काकोरी थाना क्षेत्र से अलकायदा के दो आतंकी को गिरफ्तार किया है। आतंकियों के कब्जे से विस्फोटक भी बरामद किया गया है। एटीएस के मुताबिक इनका हैंडलर पाकिस्तान से है। 

एटीएस को इनके पास से कुकर बम भी बरामद हुए है। रविवार को पुलिस को सूचना मिली कि काकोरी के दुबग्गा इलाके में दो आतंकी छुपे है। एटीएस ने फौरन एक्शन लेने हुए पहले पूरे इलाके को खाली करवाया। मिली खुफिया जानकारी के अनुसार एटीएस ने मलिहाबाद निवासी शाहिद के गैराज पर छापा मारा है। घर के अंदर से दो युवकों को गिरफ्तार किया गया है। 

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|