राजनीती

पूर्व कांग्रेस मंत्री की बेटी ने पिता के खिलाफ की शिकायत

Janprahar Desk
29 Dec 2020 10:48 PM GMT
पूर्व कांग्रेस मंत्री की बेटी ने पिता के खिलाफ की शिकायत
x
शिकायतकर्ता ने बताया कि उसे बंदी बनाया जा रहा है और अक्सर उसके पिता और भाई द्वारा बेरहमी से पीटा जाता है। 


पूर्व कांग्रेसी मंत्री राजकुमार चौहान की बेटी ने सरकारी अधिकारियों से उनसे पच्छिम विहार स्थित पैतृक निवास से बचाव के लिए अनुरोध किया। दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने सोमवार रात को पूर्व कांग्रेस मंत्री के आवास से उन्हें बचाया।

राष्ट्रीय राजधानी में शीला दीक्षित सरकार के दौरान राजकुमार चौहान चार बार के विधायक थे। दिल्ली सरकार को लिखे अपने पत्र में, राजकुमार चौहान की बेटी ने मदद मांगी और अधिकारियों से उसके पितृ-निवास से बचाव करने का अनुरोध किया।

एक बयान जारी करते हुए, DCW ने कहा, "शिकायतकर्ता ने लिखा कि उसे बंदी बनाया जा रहा है और अक्सर उसके पिता और भाई द्वारा बेरहमी से पीटा जाता है। मामले का संज्ञान लेते हुए, DCW ने एक टीम गठित की और दिल्ली पुलिस के साथ दिए गए पते का दौरा किया।"

शिकायतकर्ता ने डीसीडब्ल्यू को सूचित किया था कि उसने 1999 में शादी कर ली थी, लेकिन पिछले 10 वर्षों से वह अपने पति के साथ मतभेद के कारण दिल्ली में अपने माता-पिता के घर पर रह रही है। अपने बयान में, उसने कहा कि वह अब अपने माता-पिता के साथ नहीं रहना चाहती है और वह उनके खिलाफ कार्रवाई करना चाहती है।

महिला ने आरोप लगाया है कि उसके पति ने फिर से शादी की है, फिर भी उसके पिता नहीं चाहते कि तलाक का मामला सुलझे। उसने कहा कि परिवार की प्रतिष्ठा के मुद्दे के कारण, उसका परिवार उसे एक नया जीवन शुरू करने की अनुमति नहीं दे रहा है, और यह भी आरोप लगाया कि उसके पिता ने उसे अपने घर में अवैध रूप से सीमित कर दिया था, उसे बाहर जाने की अनुमति नहीं देता, और अक्सर उसे बेरहमी से पीटता था।

उसके पत्र का संज्ञान लेते हुए, DCW और दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने महिला को बचाया और उसे पश्चिम विहार पुलिस स्टेशन ले गई।

शिकायतकर्ता की शादी से दो बेटियां हैं और तलाक का मामला चंडीगढ़ की एक अदालत में कई वर्षों से लंबित है। डीसीडब्ल्यू के अनुसार, महिला की छोटी बेटी द्वारा भी आरोपों की पुष्टि की गई।

Next Story