राजनीती

बाइडेन ने कहा अब मरहम लगाने का वक्त, अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों को दी चेतावनी

Janprahar Desk
8 Nov 2020 1:00 PM GMT
बाइडेन ने कहा अब मरहम लगाने का वक्त, अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों को दी चेतावनी
x
बाइडेन ने कहा अब मरहम लगाने का वक्त, अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों को दी चेतावनी
न्यूयॉर्क, 8 नवंबर (आईएएनएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति चुने गए जो बाइडेन ने कठोर बयानबाजी वाले कैंपेन के बाद कहा है कि अब मरहम लगाने का वक्त है, साथ ही उन लोगों को चेतावनी दी है जो अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

मीडिया द्वारा 2020 के राष्ट्रपति पद की दौड़ का विजेता घोषित किए जाने के बाद शनिवार की रात डेलावेयर में अपने विजय भाषण में बाइडेन ने कहा, हम उस काम को करेंगे जो भगवान और इतिहास ने हमें करने का मौका दिया है।

बाइडेन ने भाषण में घरेलू मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया, खासकर देश को एक साथ लाने और उसे कोविड-19 संकट से बाहर निकाले की बात की। दुनिया से जुड़े मुद्दों की बात करें तो उन्होंने अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों को चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि उनका काम अमेरिका को फिर से दुनिया भर में सम्मान दिलाने का है।

उन्होंने कहा, आज की रात पूरी दुनिया अमेरिका को देख रही है। वह पूरी दुनिया के लिए एक रोशनी की तरह है। हम अपनी शक्ति के उदाहरण से नहीं बल्कि अपने उदाहरण की शक्ति से आगे बढ़ेंगे। यह एक महान राष्ट्र है और हम अच्छे लोग हैं। अमेरिका के खिलाफ दांव लगाने वालों के लिए यह हमेशा बुरा रहा है।

अपने कैंपेन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर महामारी का दुरुपयोग करने का आरोप लगाने वाले बाइडेन ने कहा, मैं इस महामारी को खत्म करने के लिए कोई प्रयास नहीं छोड़ूंगा। उन्होंने घोषणा की कि वह 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद वह अपनी और कमला हैरिस की योजना के आधार पर प्रोग्राम बनाने के लिए प्रमुख वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों का एक पैनल नियुक्त करेंगे।

ट्रंप समर्थकों से बाइडेन ने कहा, जिन्होंने राष्ट्रपति ट्रंप के लिए मतदान किया था, मैं आज रात उनकी निराशा को समझता हूं। मैंने खुद भी कुछ चुनाव हारे हैं। साथ ही अपील की कि वे कठोर बयानबाजी को खत्म करें। उन्होंने कहा कि वो रेड और ब्लू राज्य नहीं देखते बल्कि एक संयुक्त राज्य के तौर पर देखते हैं। मैंने चुनाव में हिस्सा डेमोक्रेट के तौर पर लिया था लेकिन अब मैं अमेरिका का राष्ट्रपति बनूंगा और उनके लिए भी कड़ी मेहनत करूंगा, जिन्होंने मुझे वोट नहीं दिया।

रिपब्लिकन द्वारा सीनेट को नियंत्रित करने की संभावना पर बाइडेन ने कहा, डेमोक्रेट और रिपब्लिकन का एक दूसरे के साथ सहयोग करने से इनकार करना हमारे नियंत्रण से परे किसी रहस्यमयी ताकत के कारण नहीं है। यह एक निर्णय है। यदि हम सहयोग न करने का फैसला कर सकते हैं तो सहयोग करने का फैसला भी कर सकते हैं।

--आईएएनएस

एसडीजे-एसकेपी

Next Story