राजनीती

सरकार विरोधी गठबंधन तोड़ने के लिए मेरे पति को गिरफ्तार किया गया : मरियम

Janprahar Desk
20 Oct 2020 11:02 AM GMT
सरकार विरोधी गठबंधन तोड़ने के लिए मेरे पति को गिरफ्तार किया गया : मरियम
x
सरकार विरोधी गठबंधन तोड़ने के लिए मेरे पति को गिरफ्तार किया गया : मरियम
कराची, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन की उपाध्यक्ष मरियम नवाज ने दावा किया है कि उनके पति और पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के दामाद रिटायर्ड कैप्टन मोहम्मद सफदर को गिरफ्तार करने के पीछे का मकसद सरकार विरोधी गठबंधन को तोड़ना है।

द ट्रिब्यून के मुताबिक, मरियम ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, मेरे परिवार और मेरे करीबी लोगों को निशाना बनाकर मुझे ब्लैकमेल मत करें।

उनकी टिप्पणी सोमवार सुबह तड़के यह ट्वीट करने के बाद आई कि सफदर को कराची में एक होटल से गिरफ्तार किया गया था।

उन्होंने दावा किया कि पुलिस उनके पति को गिरफ्तार करने तब पहुंच गई जब वह सो रही थीं।

डॉन न्यूज के मुताबिक, पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के दूसरे पावर शो से पहले रविवार को सफदर द्वारा मुहम्मद अली जिन्ना की मकबरा पर सरकार विरोधी नारे लगाए जाने के एक दिन बाद उनकी गिरफ्तारी हुई।

मकबरे की पवित्रता का उल्लंघन करने के लिए मरियम नवाज, सफदर और 200 अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

हालांकि, उन्हें बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

संवाददाता सम्मेलन में मरियम नवाज ने आगे कहा कि संघीय सरकार ऐसा दिखाने की कोशिश कर रही थी कि गिरफ्तारी के पीछे सिंध सरकार थी, लेकिन बिलावल (भुट्टो-जरदारी) ने मुझे फोन किया और वह बहुत गुस्से में थे।

सिंध के मुख्यमंत्री ने भी मुझे फोन किया और कहा कि उन्होंने कभी उम्मीद नहीं की थी कि मेरे साथ ऐसा कुछ होगा।

मरियम ने कहा, मैंने कभी भी एक पल के लिए भी नहीं सोचा था कि पीपीपी इसके पीछे है .. उन्होंने (पीटीआई) सोचा था कि वे हमारे बीच फूट डाल सकते हैं। हमें पता है कि इस तरह की चीजें होंगी, हम भी तैयार हैं।

पीएमएल-एन की उपाध्यक्ष ने यह भी दावा किया कि सफदर को पिछले कुछ समय से मौत की धमकी मिल रही हैं, जो कि उच्च स्च्तर पर बैठे कुछ लोगों से आ रही है।

उन्होंने कहा, अगर वे मानते हैं कि धमकी नवाज शरीफ या मरियम नवाज को चुप करा सकती है, अगर वे मानते हैं कि वो पीडीएम में दरार पैदा कर सकते हैं या इसकी एकता को कमजोर कर सकते हैं, तो वे गलत हैं।

--आईएएनएस

वीएवी-एसकेपी

Next Story