राजनीती

एकनाथ खड़से पर ब्राह्मण समाज का फूटा गुस्सा, जानें क्या हैं वजह!

Janprahar Desk
9 Nov 2020 1:21 PM GMT
एकनाथ खड़से पर ब्राह्मण समाज का फूटा गुस्सा, जानें क्या हैं वजह!
x
मुख्यमंत्रीपद ब्राह्मण को हमने दान में दिया है, ऐसे राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता एकनाथ खड़से ने कहा है। इस बयान के बाद ब्राह्मण समाज का गुस्सा फूटा है। उन्होंने एकनाथ खड़से से माफ़ी की मांग की है।

मुंबई, 9 नवंबर: मुख्यमंत्रीपद ब्राह्मण को हमने दान में दिया है, ऐसे राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता एकनाथ खड़से ने कहा है। इस बयान के बाद ब्राह्मण समाज का गुस्सा फूटा है। उन्होंने एकनाथ खड़से से माफ़ी की मांग की है।

ब्रह्मण समाज का कहना हैं कि अगर उन्होंने कहा हुआ वापस नहीं लिया और माफ़ी नहीं मांगी तो हम पुणे में उनका एक भी कार्यक्रम नहीं होने देंगे।

दो दिन पहले एक कार्यकर्ता से बात करते हुए उन्होंने देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधा था। तभी उन्होंने फडणवीस के जात पर अनुच्छेद करते हुए उनपर टिका की थी। नाथाभाऊ दिलदार है। मैं अच्छे अच्छे लोगों को दान देता हूं, तो फिर एक ब्राह्मण को दान देने में कोई दिक्कत नहीं है। इसलिए, मैंने मैंने मुख्यमंत्रीपद ब्राह्मण को दान में दिया है।"

भारतीय जनता पार्टी से नाराज होकर एकनाथ खड़से ने पार्टी छोड़ हाल ही में राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी जॉइन किया है। राष्ट्रवादी में आने के बाद खड़से ने भाजपा के विरोध करते हुए नजर आ रहे है। ख़ास तौर पर वह फडणवीस पर निशाना साध रहे है। खड़से का आरोप हैं कि फडणवीस के वजह से मेरा मुख्यमंत्री पद हाथ से छूट गया और मुझपर ध्यान नहीं दिया गया।

Next Story