राजनीती

यूपी चुनाव से पहले भाजपा का प्लान, कार्यकर्ताओं पर दर्ज हुए इतने मामले वापस लेगी योगी सरकार!

Janprahar Desk
25 Jun 2021 2:44 PM GMT
यूपी चुनाव से पहले भाजपा का प्लान, कार्यकर्ताओं पर दर्ज हुए इतने मामले वापस लेगी योगी सरकार!
x
यूपी चुनाव से पहले भाजपा का प्लान, कार्यकर्ताओं पर दर्ज हुए इतने मामले वापस लेगी योगी सरकार!

जैसे-जैसे यूपी विधानसभा के चुनाव नजदीक आते जा रहे है वैसे ही भाजपा अपने कार्यकर्ताओं को मनाने में जुट गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सपा और बसपा शासन के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं जितने भी मामले दर्ज किये गए है वह सब मामले भाजपा वापस लेने का विचार कर रही है।

टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक समाजवादी पार्टी और और बहुजन समाज पार्टी की सरकार के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं के लगभग 5 हजार मामले दर्ज है। रिपोर्ट के मुताबिक बताया गया है कि बीते दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्य प्रभारी राधा मोहन सिंह और राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष के बीच बैठक हुई थी जिसमें यह निर्णय लिया गया है।

ज्ञात हो कि यूपी चुनाव से पहले ही भाजपा में कई तरह की आंतरिक कलह चल रही है। सूत्रों के अनुसार पार्टी के कार्यकर्ता ही अब नाराज हो गए है। हाल ही में भाजपा के सहयोगी निषाद पार्टी के प्रमुख संजय निषाद से आगामी चुनाव में उप मुख्यमंत्री बनाने की मांग की थी। इससे पहले ओम प्रकाश राजभर नाराज होकर पार्टी छोड़ चुके है। अभी भी ऐसे कई नेता है जो भाजपा से हो नाराज चल रहा है। इसी कवायद में कार्यकर्ताओं पर दर्ज मामले वापस लेने का प्लान बना रही है योगी सरकार।

यह भी पढ़ें: भाजपा में आंतरिक कलह, यूपी विधानसभा चुनाव में संजय निषाद को अब डिप्टी सीएम बनाने की उठी मांग

सपा और बसपा के समय जिन मामलों पर संज्ञान लिया गया था अब उन्हें भाजपा झूठा और राजनीति से प्ररित बता रही है। लेकिन इनमें से ऐसे कई मामले है जो सांप्रदायिक झड़पों को भड़का चुके है। इन्ही मामलों में एक है 2013 में हुआ मुजफ्फरनगर दंगा। इस सांप्रदायिक झड़प में कम से कम 62 लोगों की मौत हो गई थी।

इस मामले में भाजपा विधायक संगीत सोम, पूर्व भाजपा सांसद भारतेंदु सिंह और विहिप नेता साध्वी प्राची सहित 12 भाजपा नेताओं के खिलाफ हिंसा भड़काने का मामला दर्ज किया गया था, लेकिन बाद में एक स्थानीय अदालत द्वारा मामले को वापस लेने की अनुमति दे दी गई।

अन्य खबरें

Next Story
Share it