राजनीती

ट्विटर पर बीजेपी ने दिखाया कांग्रेस के प्रति विरोध: '#बाङे_में_सरकार' रहा टॉप ट्रेंड पर

Janprahar Desk
3 Aug 2020 11:21 AM GMT
ट्विटर पर बीजेपी ने दिखाया कांग्रेस के प्रति विरोध: #बाङे_में_सरकार रहा टॉप ट्रेंड पर
x

बीजेपी नेताओं का कहना है कि मंत्री विधायक आराम से होटलों में मॉर्निंग वॉक और योगा कर रहे हैं ।कुछ मंत्री मंदिरों में दर्शन के लिए भी पहुंच रहे हैं।देश में कोरोनावायरस का कहर जारी है और जनता भुखमरी से मर रही है ।वहां विधायक आराम फरमा रहे हैं।

राजस्थान में सियासी संकट के चलते विधायकों को होटल में ठहराया गया है । कांग्रेस सरकार की बड़े बंदी के विरोध में बीजेपी के प्रदेश और केंद्र नेताओं ने, कांग्रेस विधायकों के होटलों में हो रहे ऐशो आराम को देखते हुए ट्विटर पर एक मोर्चा खोला है और कांग्रेस नेताओं के प्रति अपना विरोध जताते हुए #बाङे_में_सरकार लिखा है।

बीजेपी नेताओं का कहना है कि मंत्री विधायक आराम से होटलों में मॉर्निंग वॉक और योगा कर रहे हैं ।कुछ मंत्री मंदिरों में दर्शन के लिए भी पहुंच रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सुबह होटल सूर्यागढ़ में योगाभ्यास करते विधायकों का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। होटल गोरबंध में ठहरे 5-6 मंत्री सुबह होटल के बाहर मुख्य रोड पर मॉर्निंग वॉक करते नजर आए । खान मंत्री प्रमोद जैन भाया रविवार को शिव रोड स्थित देव चंद्रेश्वर मंदिर में दर्शन करने पहुंचे। अब तक जैसलमेर के प्रसिद्ध होटल सूर्यागढ़ व गोरबंध पैलेस में 91 विधायक ठहरे हुए हैं ।

देश में कोरोनावायरस का कहर जारी है और जनता भुखमरी से मर रही है ।वहां विधायक आराम फरमा रहे हैं। बीजेपी सरकार ने कांग्रेस विधायकों के इन ऐशो आराम का ट्विटर पर विरोध किया और रविवार को #बाङे_में_सरकार लिखा कर अपनी बात कही।
रविवार को यह हेशटैग बहुत ही ट्रेंड में रहा। यह भाजपा का सामूहिक रूप से चलाया गया एक अभियान है । यह ट्वीट देश भर में दोपहर के बाद ट्रेड में आया ।
बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, विधानसभा के उप नेता राजेंद्र राठौड़, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ,सांसद दिया कुमारी से लेकर प्रदेश के कई नेताओं ने 'बाड़े में सरकार ' के नाम से ट्वीट किए । लेकिन इस अभियान की खास बात यह है कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे इस सियासी चर्चा से दूर ही दिखाई दी। रविवार को उनके ट्विटर अकाउंट से 4 ट्वीट किए गए ,लेकिन इस सियासी संकट के बारे में कोई ट्वीट नहीं दिखाई दिया। रात 8:00 बजे तक उनका कोई ट्वीट नहीं आया ।
वसुंधरा राजे की राज्यसभा चुनाव से लेकर गहलोत पायलट घटनाक्रम पर चुप्पी पहले से ही चर्चा में है।
केंद्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत ने अपना विरोध जताते हुए गहलोत सरकार का सार कुछ इन शब्दों में दिया। उन्होंने लिखा "मौज-मस्ती, सैर, सपाटा, खाना-पीना, अंताक्षरी खेलना, फिल्म देखना और दूसरों की गलती निकालना! #बाङे_में_सरकार।"

वहीं सांसद दिया कुमारी ने अपना विरोध जताते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार को जनता का दुख दर्द बिल्कुल भी दिखाई नहीं दे रहा है ।उन्होंने अपना विरोध कुछ इन शब्दों में बयां किया ।उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट किया "कांग्रेस सरकार मौज मस्ती, सैर सपाटे ,व्यंजन खाने में, फिल्में देखने में, इतनी व्यस्त हो चुकी है कि उन्हें जनता का दुख दर्द दिखाई ही नहीं दे रहा है ।जनता की सुध लीजिए माननीय मुख्यमंत्री जी! जनसेवा कीजिए, जिसके लिए आपको जनता ने चुना था। #बाङे_में_सरकार।

उप उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने सियासी तकरार में कांग्रेस सरकार पर प्रहार किया और कहा सरकार दर-दर भटकने को मजबूर हो रही है। उन्होंने अपना गुस्सा जताते हुए ट्विटर पर ट्वीट किया कि " बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि चुनी हुई कांग्रेस सरकार अंतर कलह के कारण असुरक्षित महसूस कर रही है और जयपुर से जैसलमेर दर-दर भटकने को मजबूर है। जब सरकार स्वयं की सुरक्षा करने में ही सक्षम नहीं है ,तो जनता के लिए स्पष्ट संदेश है कि अब अपनी अपनी सुरक्षा स्वयं करें। #बाङे_में_सरकार।

Next Story