आखिरकार सिद्धू को मिल ही गई पंजाब प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी, लेकिन आसान नहीं डगर पनघट की

 
Sidhu became the new state president of Punjab

काफी जद्दोजहद के बाद आखिरकार सिद्धू को पंजाब की गद्दी मिल ही गई। कांग्रेस के आलाकमानों ने कैप्टन अमरिंदर सिंह की नाराजगी को दरकिनार करते हुए नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब का नया प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त कर ही दिया। सिद्धू को नई कमान सौंपे जाने के बाद उनके समर्थकों ने पटियाला में भांगड़ा कर खुशी मनाई। 

पंजाब कांग्रेस के नए प्रदेश अध्यक्ष का ऐलान होते ही सिद्धू ने गुरुद्वारे, मंदिर और मस्जिद में अपनी हाजरी लगाई। प्रदेश में चार कार्यकारी अध्यक्ष की भी नियुक्ति की गई है। संगत सिंह गिलजियां, कुलजीत नागरा, सुखविंदर सिंह डैनी और पवन गोयल को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया गया जो सिद्धू के साथ काम करेंगे। 

सिद्धू को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी तो मिल गई है लेकिन यह कुर्सी कांटों भरी है। दरअसल पंजाब दो खेमों में बट चुका है। कैप्टन अमरिंदर सिंह खेमे के कुछ वरिष्ठ नेता सिद्धू से नाराज चल रहे है। उन्हें सिद्धू की नई कुर्सी नागवार गुजरा रही है। नए अध्यक्ष बनाये जाने से पहले कैप्टन खेमे ने अपनी नाराजगी भी  जाहिर की थी। लेकिन आलाकमान ने इसपर ध्यान न देते हुए सिद्धू को अध्यक्ष पद की कुर्सी सौंप दी। 

सिद्धू से नाराज चल रहे विधायकों का कहना है कि सिद्धू के सेलेब्रिटी है, और निसंदेह वह पार्टी के लिए एक संपत्ति है। लेकिन अपनी ही पार्टी की निंदा करके उन्होंने पार्टी को कमजोर किया है और असंतोष बढ़ाया है। 

यह भी पढ़ें: ब्राह्मण वोट बैंक में सेंध लगाना चाहती है मायावती? ब्राह्मणों को रिझाने के लिए BSP शुरू करेगी अभियान

उधर कांग्रेस नेता सुखपाल सिंह खैरा ने 10 विधायकों की ओर से संयुक्त बयान जारी कर सोमवार दोपहर को  विधायकों, विधानसभा चुनाव के हारे हुए उम्मीदवारों और जिलाध्यक्षों की बैठक बुलाई है। मिली जानकारी के अनुसार बैठक में यह प्रस्ताव पारित किया जाएगा कि पार्टी नेतृत्व द्वारा लिया गया फैसला, राज्य इकाई को मानना पड़ेगा। अब बुलाई गई इस बैठक को लेकर पंजाब में फिर से मतभेद शुरू हो गया है।

कैप्टन खेमा इस बैठक के पक्ष में नहीं है, जबकि लरटी के अन्य विधायक बैठक की तैयारियों में लगे हुए है। पंजाब में चल रहे अंदरूनी कलह के बीच सिद्धू कैसे अपनी कुर्सी संभालेंगे यह देखने लायक होगा।

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|