राजनीती

बिहार चुनाव में जदयू से करीब दोगुनी सीट जीतेगी भाजपा, राजग को मिलेंगी 116 सीटें

Janprahar Desk
7 Nov 2020 10:13 PM GMT
बिहार चुनाव में जदयू से करीब दोगुनी सीट जीतेगी भाजपा, राजग को मिलेंगी 116 सीटें
x
बिहार चुनाव में जदयू से करीब दोगुनी सीट जीतेगी भाजपा, राजग को मिलेंगी 116 सीटें
नई दिल्ली, 7 नवंबर (आईएएनएस)। बिहार में शनिवार को तीसरे और आखिरी चरण का मतदान पूरा हो गया है। आईएएनएस-सीवोटर बिहार एग्जिट पोल के अनुसार, राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) और कांग्रेस व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेतृत्व वाले महागठबंधन में से किसी को भी पूर्ण बहुमत मिलता दिखाई नहीं दे रहा है।

आईएएनएस-सीवीओटर बिहार एग्जिट पोल के नतीजों में सामने आया है कि प्रदेश में एंटी इनकंबेंसी का फैक्टर जरूर रहा है, क्योंकि राजग बिहार विधानसभा में महज 116 सीटें ही हासिल कर पाएगी। इसके अलावा महागठबंधन को 120 सीटें मिलने की उम्मीद है।

नीतीश कुमार की जनता दल-युनाइटेड (जदयू) को इस बार सिर्फ 42 सीटें मिलती दिख रही हैं। यानी प्रदेश में एंटी इनकंबेंसी का असर साफतौर पर देखा जा सकता है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि का फायदा उठाने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को भी महज 70 सीटें ही मिलती दिखाई दे रही हैं।

राजग के अन्य दो गठबंधन सहयोगियों हम (एस) और वीआईपी को दो सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है।

वहीं महागठबंधन को राजग से कुछ सीटों का फायदा ही मिलता नजर आ रहा है और उसे 120 सीटें मिलने की संभावना है। महागठबंधन कांग्रेस का खामियाजा भुगतता नजर आ रहा है, जो पिछली बार की तुलना में ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ी, लेकिन उसे सिर्फ 25 सीटें मिलने की उम्मीद है।

आईएएनएस-सीवोटर बिहार एग्जिट पोल के मुताबिक, तेजस्वी यादव, जिन्होंने इस चुनाव में बेरोजगारी को मुद्दा बनाया था, उनकी पार्टी राजद को 85 सीटें मिलने का अनुमान है।

महागठबंधन के छोटे दलों की बात की जाए तो इन्हें 10 सीटें मिलने की उम्मीद है। इन वामपंथी दलों की ओर से राजद की पीठ पर सवार होकर प्रभावशाली स्कोर प्राप्त करने की संभावना है, जहां सीपीआई-माले को छह सीटें मिलने की संभावना है, जबकि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्‍सवादी (माकपा) और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) को दो-दो सीटें मिलने की संभावना है।

वहीं राजग गठबंधन से अलग लड़ने वाली लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) बुरी तरह विफल होती दिखाई दे रही है। लोजपा को महज एक सीट मिलने की संभावना है।

इसके अलावा राज्य की छह सीटें अन्य के खाते में जाने की संभावना है। एक त्रिशंकु विधानसभा परिदृश्य में उनकी भूमिका महत्वपूर्ण होने वाली है।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Next Story