भारत बॉयोटेक की Covaxin को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दी ये बड़ी जानकारी

 
Covaccine

स्वदेशी कंपनी भारत बायोटेक के लिए राहत भरी खबर आई है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) कोवैक्सीन को स्वीकृति प्रदानबके बारे में सोच रहा है। WHO का कहना है कि कोवैक्सीन के अंतिम चरण का डाटा बढ़िया है और यह  अंतरराष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य एजेंसी की सुरक्षा प्रोफ़ाइल से मेल खाता है। 

WHO की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन का कहना है कि भारत बॉयोटेक की वैक्सीन डेल्टा वायरस के खिलाफ थोड़ा कम असरदार है लेकिन यह खराब नहीं है बल्कि इसकी प्रभावकारिता अधिक है। बता दें कि भारत बायोटेक और डब्ल्यूएचओ के बीच प्री-सबमिशन बैठक 23 जून को हुई थी।

सौम्या स्वामीनाथन ने कहा जिन भी टीकों को आपातकाल के लिए मंजूरी मिली है उन सभी पर WHO कड़ी नजर रखता है। स्वामीनाथन का कहना था कि एजेंसी फिलहाल में और डाटा की प्रतीक्षा कर रही है। कोवैक्सीन का और डाटा इकट्ठा होने के बाद इसे WHO द्वारा मान्यता दी जा सकती है। भारत में कोरोना की स्थिति पर स्वामीनाथन ने कहा, सरकार को कम से कम 60-70 प्रतिशत आबादी के प्राथमिक टीकाकरण पर ध्यान देना चाहिए।

हाल ही में भारत बॉयोटेक ने 'कोवैक्सीन' के तीसरे चरण का ट्रायल पूरा कर लिया है। कंपनी ने इसके नतीजे भी सार्वजनिक कर दिए है। डाटा विश्लेषण के बाद कंपनी की तरफ से यह कहा गया कि कोवैक्सीन डेल्टा वैरिएंट और कोरोना के गम्भीर मामलों में प्रभावी है।

यह भी पढ़ें: देश के 174 जिलों में 'डेल्टा प्लस' वैरिएंट की दस्तक, इन 6 राज्यों की स्थिति चिंताजनक

भारतीय कंपनी भारत बॉयोटेक ने वैक्सीन का मूल्यांकन करने के लिए 25 भारतीय अस्पतालों में डबल-ब्लाइंड, रैंडमाइज्ड, मल्टीसेंटर, तीसरे चरण का परीक्षण किया है। 

उपयुक्त डाटा के अनुसार कोवैक्सीन डेल्टा वैरिएंट के खिलाफ 65.2 फीसदी कारगर है वही वायरस के खिलाफ इसे 77.8 फीसदी पाया गया है। कोरोना के गंभीर मामलों में इसका प्रभाव 93.4 फीसदी है। जबकि और गंभीर कोविड-19 के मामलों में 78 फीसदी प्रभावी पाई गई है।

बता दें कि भारत में इस वक्त चार कोरोना वैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिली हुई है। कोविशील्ड, कोवैक्सीन और स्पुतनिक V के बाद हाल ही में मॉडर्ना चौथी वैक्सीन है जिसे भारत में मंजूरी मिली है।

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|