देश

कोरोना की तीसरी लहर कब अपने पीक पर पहुंचेगी? सरकार के टॉप एक्सपर्ट्स ने दिया ये जवाब

Janprahar Desk
4 July 2021 12:36 PM GMT
कोरोना की तीसरी लहर कब अपने पीक पर पहुंचेगी? सरकार के टॉप एक्सपर्ट्स ने दिया ये जवाब
x
कोरोना की तीसरी लहर कब अपने पीक पर पहुंचेगी? सरकार के टॉप एक्सपर्ट्स ने दिया ये जवाब

भारत में कोरोना के दूसरी लहर के खत्म होने पहले तीसरी तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही हों। वहीं, कोरोना मामलों पर एनालिसिस करने वाले सरकारी पैनल के वैज्ञानिकों ने एक संभावित अनुमान जताया है, जिसके मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर अक्टूबर-नवंबर पर अपने पीक पर पहुंच सकती है।

सरकार ने विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने कोरोना के बढ़ते मामलों का पूर्वानुमान लगाने के लिए इस पैनल का गठन किया था। यह पैनल गणितीय मॉडल के सहारे यह पता लगती है कि किस आधार पर कोरोना के मामलों में वृद्धि हो सकती है।

इसी पैनल के वैज्ञानिकों ने आशंका जाहिर करते हुए कहा है कि अगर सावधानी न बरती गई तो अक्टूबर-नवंबर के बीच कोरोना की तीसरी लहर अपने चरम पर होगी। हालांकि वैज्ञानिकों का ऐसा भी कहना है कि तीसरी लहर के मामले दूसरी लहर के मुकाबले आधे ही रह सकते है।

वैज्ञानिकों ने एनालिसिस करने के बाद यह बताया है कि अक्टूबर तक देश के 40 प्रतिशत लोगों का पहला टिकाकरण हो चुका होगा। बचे 60 प्रतिशत आबादी में यह बच्चों को कम ही प्रभावित करेगा। ऐसे में वैज्ञानिकों का कहना यही है कि तीसरी लहर ज्यादा प्रभावित नहीं करेगी। लेकिन वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि अगर को नया घातक वैरिएंट आता है तो तीसरी लहर तबाही मचा सकती है।

वैज्ञानिकों ने तीन परिदृश्य के आधार पर भविष्यवाणी की है। तीन परिदृश्य हैं – आशावादी, मध्यवर्ती और निराशावादी।

यह भी पढें: एक्‍सपर्ट की सलाह, इन दो चीजों पर फोकस करके रोकी जा सकती है कोरोना की तीसरी लहर

इससे पहले भी आईसीएमआर के पैनल ने कहा था कि अगर हम तेजी से वैक्सीनेशन की रफ्तार को बढ़ाते है तो हम तीसरी लहर से बच सकते है।

नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल से रिटायर्ड डॉ. सतपाल का कहना है कि तीसरी लहर को नाकाम करने के लिए आम जनता और सरकार दोनों को ही गंभीरता से दो चीजों पर फोकस करना होगा। डॉक्टर सतपाल का कहना है कि पहला तो सरकार को कोरोना से होने वाली मौतों को कैसे भी करके रोकना होगा। सरकार को हेल्थ सेक्टर पर फोकस करके मृत्यु दर कम करना होगा। वहीं, दूसरी चीज उन्होंने कही, जितना जल्दी हो सके आम जनता अपने आप को वैक्सीनेट कर लें। इस काम मे सरकार भी तत्परता दिखाते हुए डोज की आपूर्ति को ठप न होने दें।

अन्य खबरें

Next Story
Share it