कोरोना काल में कैसे करें बच्चों की सुरक्षा? केंद्र सरकार ने जारी की गाइडलाइन

भारत में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना के चलते केंद्र सराकर ने भी कमर कस ली है। तीसरी लहर से बच्चों की सुरक्षा आउट देखभाल के लिए केंद्र ने गाइडलाइन जारी की है।
 
Child

भारत में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना के चलते केंद्र सराकर ने भी कमर कस ली है। तीसरी लहर से बच्चों की सुरक्षा आउट देखभाल के लिए केंद्र ने गाइडलाइन जारी की है। इस गाइडलाइन में कोविड 19 से प्रभावित हुए बच्चों का पूरा खाका तैयार करने की बात कही गई है। गाइडलाइन के तहत बच्चों की देखभाल के लिए राज्य, जिला और पंचायत स्तर तक के अधिकारियों को इसकी जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

यह गाइडलाइन केंद्रीय महिला एवं बाल विकास सचिव राम मोहन मिश्रा की ओर से सभी राज्य सरकारों को भेजी गई है। केंद्र ने राज्य सरकारों से कहा है कि वह अपने सभी जिले के बच्चों का डाटा तैयार करें। डाटा में बच्चे से संबंधित हर बात की जानकारी होनी चाहिए। 

केंद्र सरकार ने कहा है कि राज्यों द्वारा डाटा मिल जाने के बाद इस डाटा को ट्रैक चाइल्ड पोर्टल पर अपलोड कर दिया जाए। केंद्र ने यह कहा कि जेजे एक्ट 2015 के तहत सभी सूचनाओं को सुरक्षित रखा जाएगा। 

राज्यों को भेजे गए पत्र में यह भी लिखा हुआ है कि प्रभावित हुए बच्चो के करीबी लोगों का नंबर सेव करके रखें ताकि इमरजेंसी पड़ने पर उनके करीबियों से संपर्क साधा जा सकें।

​​​​​​

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|