कोरोना के इलाज के लिए सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस, ये दवाएं की गईं बंद

भारत में कोरोना के घटते मरीजों के साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इलाज को लेकर अपने गाइडलाइन्स में कुछ बदलाव कर दिए है।
 
Patient

भारत में कोरोना के घटते मरीजों के साथ ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी इलाज को लेकर अपने गाइडलाइन्स में कुछ बदलाव कर दिए है। नई गाइडलाइन्स के तहत  हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए एंटीपाइरेटिक और एंटीट्यूसिव को छोड़कर अन्‍य सभी दवाएं हटा दी गई हैं। साथ ही मरीजों के गैर जरूरी टेस्‍ट बंद करने को भी  कहा है, इनमें सीटी स्‍कैन भी शामिल है।

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के डायरेक्‍टरेट जनरल ऑफ हेल्‍थ सर्विसेज के द्वारा जारी की गई नई गाइडलाइन्स के अनुसार हल्के लक्षण वाले मरीजों के इलाज के किये दी जाने वाली हाइड्रॉक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन, आइवरमेक्टिन, डॉक्‍सीसाइक्लिन, जिंक, मल्‍टीविटामिन और अन्‍य दवाओं को बंद कर दिया है।

हल्के लक्षण वाले मरीज जिन्हें बुखार है उन्हें एंटीपाइरेटिक और सर्दी के लिए एंटीट्यूसिव दी जाएगी। गाइडलाइन्स में गैर जरूरी टेस्ट भी बंद करवाने की बात कही गई है और सोशल डिस्‍टेंसिंग, फेस मास्‍क और हाथ धोने का सुझाव दिया गया है।

गाइडलाइन में कोरोना संक्रमित मरीजों के परिजनों से कहा गया है कि उससे फोन या वीडियो कॉल के लिए सकारात्मक बाते करें और पौस्टिक खाना खाने की सलाह दें। 

गाइडलाइंस में साफ तौर पर यह भी कहा गया है कि अगर संक्रमित व्यक्ति किसी और बीमारी से ग्रसित हो तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें, उसके बाद भी कोई दवा खाएं। 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|