जम्मू एयरफोर्स स्टेशन में ड्रोन से धमाकों, वहां से 5 किमी की दूरी पर मकवाल बॉर्डर, पाकिस्तान पर शक

 
Jammu airforce station blast

जम्मू एयरपोर्ट के टेक्निकल एरिया में शनिवार रात 2 बजे के करीब दो धमाके हुए। धनाके में दो लोगों के घायल होने की सूचना मिली है। एयरपोर्ट के बेहद सुरक्षा वाले टेक्निकल एरिया 5 मिनट के अंतराल पर ड्रोन से धमाका किया गया। इस हमले के पीछे पाकितान का हाथ बताया जा रहा है। 


न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक एक विस्फोटक सामग्री IED इमारत की छत पर गिरी। वहीं, दूसरा धमाका इमारत से सटे ओपन एरिया में हुआ। सूचना पर पहुंची एनआईए की टीम जांच पड़ताल में जुट गई है। हालांकि इस धमाके से किसी को खास नुकसान नहीं हुआ। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार धमाके के लिए पी-16 ड्रोन का इस्तेमाल किया गया। यह ड्रोज जमीन से काफी नीचे उड़ता है, जिस कारण ये रडार की पकड़ में भी नहीं आ पाता है। सूत्रों से ये भी पता चला है कि ड्रोन में जीपीएस लगा हुआ था।

यह भी पढ़े: 'मां तुझे सलाम' गाने की वजह से लॉक किया गया था IT मिनिस्टर रवि शंकर प्रसाद का Twitter एकाउंट

अंदेशा लगाया जा रहा है कि इस घटना के पीछे पड़ोसी देश पाकिस्तान का हाथ है। एयरपोर्ट से मकवाल बॉर्डर की दूरी महज पांच किलोमीटर है। पूरा आदेश है कि ड्रोन को सीमा पार से हैंडल किया जा रहा है। फिलहाल फ़ॉरेंसिक टीम भी जांच पड़ताल में जुटी है। रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। 

वहीं, इस घटना के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू  के वायु सेना स्टेशन पर वाइज एयर चीफ एचएस अरोड़ा से बात की है। उन्होंने घटना को पूरा ब्यौरा लिया और वह स्थिति का जायजा लेने के लिए जम्मू भी पहुंच रहे है। 

धमाके के बाद से जम्मू में सुरक्षा व्यवस्था को ऑयर सख्त कर दिया गया है। घटनास्थल के साथ सटे हुए इलाकों में तलाशी अभियान जारी है। 

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|