आखिरकार Twitter को माननी पड़ी भारत की बात, विनय प्रकाश को नियुक्त किया शिकायत अधिकारी

 
Vinay prakash

कई दिनों मि गमरजोशी के बाद आखिरकार माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने भारत सरकार की बात मान ही ली। ट्विटर ने भारत के लिए शिकायत अधिकारी नियुक्त किया है। इसके साथ ही ट्विटर एकाउंट के खिलाफ किए गए कार्रवाई पर उसने मासिक रिपोर्ट भी रखी है। ट्विटर ने अपनी वेबसाइट के जरिए बताया कि उसने विनय प्रकाश को भारत के लिए कंपनी का निवासी शिकायत अधिकारी नियुक्त किया है। 

इससे पहले ट्विटर ने दिल्ली हाईकोर्ट में कहा था कि वह आठ हफ्ते के भीतर भारत में शिकायत अधिकारी नियुक्त करेगा। ज्ञात हो कि भारत सरकार और ट्वीटर के बीच हुए विवाद के बाद धर्मेंद्र चतुर ने 21 जून को शिकायत अधिकारी का पद छोड़ दिया था। इसके बाद ट्विटर ने कैलिफोर्निया जेरेमी केसल को भारत के लिए नया शिकायत अधिकारी नियुक्त किया था। लेकिन यह भारत के आईटी नियमों के विरुद्ध था। 

भारत के नए आईटी नियमों के मुताबिक सोशल मीडिया कक शिकायत निवारण अधिकारी सहित सभी नोडल अधिकारी भारत के मूल निवासी के साथ भारत के होने चाहिए। बता दें कि 28 को वकील अमित आचार्या ने इस संबंध में दिल्लीकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में शिकायत दर्ज करवाई थी। 

यह भी पढ़ें: मोदी कैबिनेट में 42 फीसदी मंत्रियों पर आपराधिक मामले, 90 प्रतिशत करोड़पति : ADR रिपोर्ट में दावा

दाखिल की गई याचिका में तर्क दिया गया था कि सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म को रेजीडेंट ग्रीवांस अधिकारी को नियुक्त करना चाहिए, जो शिकायत का समाधान करने के लिए कर्तव्यनिष्ठ होगा। यह अधिकारी किसी भी नोटिस और आदेश को स्वीकार करने के लिए बाध्य होगा। 

गौरतलब है कि भारत सरकार ने 26 मई को नए आईटी नियम लागू किये थे। नियमों के तहत तहत 50 लाख से अधिक यूजर्स वाली सोशल मीडिया कंपनियों को मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल अधिकारी और शिकायत अधिकारी की नियुक्ति करने की जरूरत है। इन तीनों अधिकारी को भारत का निवासी होना उपयुक्त है। बता दें कि इस समय ट्विटर के भारत में लगभग 1.75 करोड़ यूजर्स हैं। 

अन्य खबरें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|