Tips for Loose Motion in Hindi | पेट खराब होने से इन चीजों को ना खाएं | दस्त का इलाज

अगर आपका पेट समय-समय पर खराब हो जाता है और आप इसका कारण नहीं समझ पा रहे हैं तो यहां दी गई जानकारी को अवश्य पढ़ें। पेट खराब होने से इन चीजों को ना खाएं | दस्त का इलाज
 
Tips for Loose Motion in Hindi | पेट खराब होने से इन चीजों को ना खाएं | दस्त का इलाज

लोगों को अक्सर कुछ भी उल्टा सीधा खा लेने से दस्त (Loose motion in Hindi) की समस्याएं होती है। ज्यादा तेल, मसाले या कोई भी खराब खाना खाने से लोगों के पेट खराब हो जाते हैं और उन्हें दस्त होने शुरू हो जाती है। ऐसे में सही खान-पान करना और ज्यादा तेल मसालों से बचना बहुत जरूरी होता है। इसके अलावा ज्यादा मीठे खाने के पदार्थ (sweets), ज़्यादा तेल वाले पदार्थ (oily food) और डेयरी पदार्थ (dairy products) जैसे कि दूध, दही, घी इत्यादि चीजों से भी दस्त की समस्या हो सकती है। Pet kyun kharab hota hai? इन सब कारणों के अलावा बच्चों को कुछ भी बिना किसी कारण के भी दस्त की समस्या हो सकती है। लेकिन हम इससे निपटने में असमर्थ होकर दवाइयों पर निर्भर हो जाते हैं। ऐसे बहुत से लोग कुछ भी खाना यह समझ नहीं पाते हैं कि उन्हें किन चीजों से परहेज करना चाहिए तो हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे क्यों आपको दस्त के दौरान नहीं खाना चाहिए। Pet kharab hone par kya karen?
  • ज्यादा वसा की मात्रा वाली चीजों (Fat rich food) को खाने से परहेज करना बहुत जरूरी होता है। अतिरिक्त fat वाला खाना खाने से पेट पर दवा पड़ता है जिससे दस्त की समस्या और भी गंभीर हो जाती है। इसके अलावा constipation और diarrhoea भी बढ़ने की संभावना होती है। 
  • Diary products से भी दूरी बनाए रखना बहुत जरूरी होता है। इन चीजों में दूध (milk), चीज (cheese), आइसक्रीम (ice cream) जैसी चीजें शामिल है जिन्हें पचाना थोड़ा मुश्किल होता है। ऐसे में इन चीजों का सेवन करने से समस्या और बढ़ सकती है। अगर आप दही का सेवन करते हैं तो इसे बिल्कुल ही कम मात्रा में खा सकते हैं। 
  • दस्त के दौरान सबसे महत्वपूर्ण चीज याद रखने की जरूरत है वह है मसालेदार और तैलीय (spicy and oily food) खाने से परहेज करना। तेल और मसाले से पेट जल्दी खराब होता है। ऐसे में ऐसी चीजों का सेवन करने से पाचन प्रक्रिया कमजोर हो जाती है और ज्यादा परेशानी होने लगती है।

pet hone par kya karen?

  • दस्त के दौरान चाय या कॉफी पीने से भी अक्सर इनकार किया जाता है। इसमें मौजूद कैफीन (caffeine) से सीने में जलन या फिर पेट में अल्सर और दस्त की समस्या बिगड़ सकती है। साथ ही धूम्रपान और शराब पीने से भी परहेज करें।
  • मैदे से बने हुए कोई भी चीज का सेवन ना करें। मैदे में मौजूद carbohydrates से पेट पर ज्यादा दबाव पड़ता है जिससे दस्त की समस्या ज्यादा बढ़ सकती है।
  • दस्त के दौरान कच्ची सब्जियों या फलों का सेवन करने से बचें। इन चीजों में अधिक मात्रा में फाइबर होता है जो कि पेट के मरोड़ने की समस्या को और भी बढ़ा सकता है और आपकी परेशानी बढ़ सकती है।
यहां बताई गई चीजों को ध्यान में रखें और अगली बार अगर ऐसी स्थिति आने पर चीजों से कॉक को खाने से परहेज करें।
अन्य खबरें:

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|