स्वास्थ्य

Tulsi Benefits in Hindi: औषधीय गुणों से भरपूर है तुलसी, खाली पेट सेवन से होंगे फायदे ही फायदे

Ankit Singh
29 Nov 2021 11:30 AM GMT
Tulsi Benefits in Hindi: औषधीय गुणों से भरपूर है तुलसी, खाली पेट सेवन से होंगे फायदे ही फायदे
x
Basil Leave Benefits: तुलसी (Tulsi) के पौधे का जितना महत्व धार्मिक रूप से है, उतना ही आयुर्वेद में भी है। आयुर्वेद में तुलसी को औषधीय पौधा माना जाता है, जो व्यक्ति को कई रोगों से बचाता है। तो आइए आज जानते है Tulsi Ke Fayde (Tulsi Benefits in Hindi)

Tulsi ke Fayde: भारत के अधिकांश घरों में तुलसी के पौधे (Tulsi Plant) की पूजा की जाती है। हिन्दू धर्म में तुलसी (Basil) को पवित्र पौधा माना जाता है, वेदों में भी इसके औषधीय गुणों का वर्णन किया गया है। तुलसी के पौधे का जितना महत्व धार्मिक रूप से है, उतना ही आयुर्वेद में भी है। आयुर्वेद में तुलसी (Tulsi) को औषधीय पौधा माना जाता है, जो व्यक्ति को कई रोगों से बचाता है। Tulsi (Basil) हमारे स्वास्थ्य के लिए बहेद फायदेमंद होती है। सुबह खाली पेट Tulsi का सेवन शरीर में कई बीमारियों को ठीक करने में मदद करता है।

Tulsi में एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं, जो पेट से संबंधित परेशानियां जैसे पाचन में परेशानी, पेट में जलन व एसिडिटी टाइप की दिक्कतों को दूर करने में मदद करती है। तो आइए आज के इस लेख में जानते है Tulsi Ke Fayde (Benefits of Tulsi in Hindi) और यह भी जानते है कि तुलसी का उपयोग (How to Use Tulsi in Hindi) कैसे करना है।

Benefits of Tulsi (Basil) in Hindi | Tulsi Ke Fayde

Tulsi Benefits for Brain (दिमाग के लिए फायदेमंद)

Tulsi के पट्टी को रजाना खाने से ब्रेन की कार्यक्षमता तेज होती है। जिस वजह से व्यक्ति की याददाश्त तेज होती है। इसलिए आप तुलसी की 4-5 पत्तियों को पानी के साथ निगलकर जा जाएं। ऐसा कई दिनों तक करें।

Tulsi Benefits for Throat Infection (गले से जुड़ी समस्याओं में आराम)

सर्दी के मौसम में गले के खरास की समस्या अक्सर होती है। Tulsi के सेवन से गले से जुड़ी समस्या को दूर किया जा सकता है। इसके लिए तुलसी के रस (Tulsi juice) को हल्के गुनगुने पानी में मिलाकर उससे कुल्ला करें। इसके अलावा तुलसी के रस में हल्दी और सेंधा नमक मिलाकर कुल्ला करने से दांत और गले का विकार दूर होता है।

Tulsi Benefits for Cough (खांसी से आराम)

तुलसी की पत्तियों से बने शर्बत को आधी से डेढ़ चम्मच की मात्रा में बच्चों को तथा 2 से चार चम्मच तक बड़ों को सेवन कराने से, खांसी, श्वास, कुक्कुर खांसी और गले की खराश में लाभ होता है। इस शर्बत में गर्म पानी मिलाकर लेने से जुकाम तथा दमा में बहुत लाभ होता है।

Tulsi Improve Immunity Power (रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए)

Tulsi के नियमित सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। 20 ग्राम तुलसी बीज चूर्ण में 40 ग्राम मिश्री मिलाकर पीस कर रख लें। सर्दियों में इस मिश्रण की 1 ग्राम मात्रा का कुछ दिन सेवन करने से शारीरिक कमजोरी दूर होती है, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।

Tulsi Benefits for Stress (तनाव में फायदेमंद)

स्टडीज की मानें तो तुलसी के पत्ते में मौजूद अडैप्टोजेन स्ट्रेस को कंट्रोल करने में मदद करता है। यह नर्वस सिस्टम को रिलैक्स करते हुए ब्लड फ्लो को सुधारता है। तुलसी के पत्तों से सिरदर्द में भी राहत मिलती है। स्ट्रेस व सिरदर्द की परेशानी से निपटने के लिए रोज सुबह खाली पेट 2-3 तुलसी की पत्तियों का सेवन करें।

Other Benefits of Tulsi Hindi | Basil Benefits in Hindi

  • कान में दर्द में होने पर तुलसी की बूंद गुनगुना करके कान में डालने से दर्द कम होता है।
  • Tulsi एंटी-बायोटिक का भी काम करती है। हर रोज़ इसका इस्तेमाल करने से शरीर से हानिकारक तत्व बाहर निकल जाते हैं।
  • तुलसी (Tulsi) में एंटी-इफ्लेमेन्ट्री के तत्व भरपूर होते हैं। इसके लगातार सेवन से रेड ब्लड सेल्स का शरीर में इजाफा होता है।
  • जानकारों की मानें तो Tulsi को शरीर पर रगड़ने से मच्छरों से बचा जा सकता है।
  • किसी घाव पर तुलसी की बूंद डालने से संक्रमण से बचा जा सकता है।
  • जानकारों के मुताबिक, गर्भवती महिलाओं में उल्टी की परेशानी होने पर भी Tulsi लाभकारी होती है।
  • लूज मोशन होने पर तुलसी को जीरे के साथ पीस लें और दिन में तीन से चार बार इस मिश्रण को खाएं।
  • त्वचा संबंधी रोगों में Tulsi खासकर फायदेमंद है। इसके इस्तेमाल से कील-मुहांसे खत्म हो जाते हैं और चेहरा साफ होता है।
  • कई शोधों में Tulsi के बीज को कैंसर के इलाज में भी कारगर बताया गया है। हालांकि अभी तक इसकी पुष्ट‍ि नहीं हुई है।

How to Use Basil (Tulsi) in Hindi | तुलसी का उपयोग

> आप अपनी पसंदीदा डिश जैसे टमाटर की चटनी, फ्लेवर दही, मीट की ग्रेवी में तुलसी के पत्तों को काटकर डाल सकते हैं। इससे डिश का स्वाद भी बढ़ेगा और जरूरी पोषक तत्व भी मिलेंगे।

> तुलसी खाने के फायदे उठाने के लिए रोज सुबह खाली पेट तुलसी की पत्तियों को चबाया जा सकता है। उससे पहले इसे पानी से जरूर धो लें।

> खाना बनाते समय अंत में तुलसी के पत्तों को मिक्स कर देने से इससे खाने में अनोखा स्वाद आएगा और साथ ही खाने से मनमोहक खुशबू भी आएगी।

> तुलसी के पत्तों के साथ अदरक व शहद का इस्तेमाल करके हर्बल चाय बनाई जा सकती है। यह चाय न सिर्फ सेहत के लिए फायदेमंद है, बल्कि स्वाद में भी अच्छी होती है।

> सलाद में भी तुलसी के ताजे पत्तों को काटकर मिक्स कर सकते हैं।

> जूस या मॉकटेल में भी तुलसी के पत्तों को डाल सकते हैं। इससे नया फ्लेवर मिलेगा।

ये भी पढें-

Natural sleeping Tips in Hindi : उल्लू की तरह न जगे, बल्कि अच्छी नींद के लिए आजमा लें ये टिप्स

Home Remedies For Cracked Heels: फटी एड़ियां हो जाएंगी रातभर में मुलायम, अपना लें ये घरेलू उपचार

Home Remedies for Tonsils in Hindi: इन उपायों से घर पर ही दूर करें टॉन्सिल्स की समस्या

Home Remedies for Cold Cough : बदलते मौसम में सर्दी-खांसी से है परेशान? तो आजमाएं ये घरेलू उपचार

Next Story
Share it