स्वास्थ्य

Guava Benefits in Hindi : यहां जानें अमरूद खाने के फायदे, नुकसान और प्रयोग | Amrud ke Fayde

Ankit Singh
28 Nov 2021 11:00 AM GMT
Guava Benefits in Hindi : यहां जानें अमरूद खाने के फायदे, नुकसान और प्रयोग | Amrud ke Fayde
x
Benefits Of Guava Fruit: अमरूद के फायदे अनगिनत हैं। यहां अमरूद खाने के कुछ ऐसे लाभों (Guava Benefits in Hindi) के बारे में बताया गया है। साथ ही अमरूद के पौष्टिक तत्व (Guava Nutrients in Hindi) और नुकसान (Side Effects of Guava in Hindi) के बारे में जानकारी दी गई है।

Benefits Of Guava Fruit in Hindi: सर्दी का आगाज होते ही शहर में अमरूद (Guava) की आवक बढ़ जाती है। अमरूद को विंटर सुपरफूड भी माना जाता है। कई स्वास्थ्य से राहत दिलाने में अमरूद रामबाण इलाज माना जाता है। यह वास्तव में पोषक तत्वों का पावरहाउस है। संस्कृत में तो इस फल को अमृत कहा जाता है। आयुर्वेद में भी अमरूद (Guava) को महत्वपुर्ण फल माना गया है। अमरूद के स्वास्थ्य लाभों की लिस्ट काफी लंबी है। इस लेख में हमारे साथ जानिए अमरूद के औषधीय गुण और विभिन्न शारीरिक समस्याओं पर अमरूद के फायदे। (Benefits of Guava in Hindi) इसके अलावा, लेख में अमरूद के उपयोग (How to Use Guava in Hindi) और अमरूद के नुकसान (Side Effects of Guava in Hindi) पर भी प्रकाश डाला गया है।

अमरूद के औषधीय गुण

अमरूद (Guava) और इस पेड़ के अन्य उत्पादों में एंटीमाइक्रोबियल, एंटीफंगल, एंटीडायबिटिक और एंटी डायरियल गुण पाए जाते हैं। अमरूद का उपयोग गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल इंफेक्शन, मलेरिया, श्वसन संक्रमण, मुहं /दांत का संक्रमण, त्वचा संक्रमण, मधुमेह, हृदय और कुपोषण से जुड़ी समस्याओं में फायदेमंद साबित हो सकता है। इतना ही नहीं, कई वैज्ञानिक अध्ययन इसे महिलाओं की स्वास्थ्य समस्याओं, किडनी और कैंसर के लिए भी इसे उपयोगी साबित कर चुके हैं।

अमरूद के पौष्टिक तत्व | Guava Nutrients in Hindi

अमरुद (Guava) में विटामिन ए, विटामिन इ, विटामिन बी 6 पाया जाता है। इसके अलावा इसमें मेग्नीशियम, पोटैशियम व उच्च मात्रा में फाइबर होता है। अमरुद में लाइकोपिन, फाइटो न्यूट्रिएंट्स आदि भी होते है।

Amrud ke fayde | Benefits of Guava in Hindi

Guava for Immunity : अमरूद बढ़ाए प्रतिरोधक क्षमता

विटामिन सी के लिए अमरूद (Guava) सबसे समृद्ध स्रोतों में से एक है। विटामिन सी इम्यूनिटी में सुधार करने में मदद करता है और आपको सामान्य संक्रमणों और रोगजनकों से बचाता है. Guava के सेवन से आंखें भी स्वस्थ रहती है। बता दें मि अमरूद में विटामिन सी की मात्रा संतरे से भी 4 गुना अधिक होती है। (और पढ़ें- Immunity Boosting Foods in Hindi)

Gauva Benefits for Cancer : कैंसर का खतरा कम करें

अमरूद का फल (Guava Fruit) प्रोस्टेट कैंसर के जोखिम को कम करने में व्यापक रूप से सफल रहा है और स्तन कैंसर कोशिकाओं के विकास को भी रोकता है क्योंकि यह लाइकोपीन से भरपूर होता है। अमरूद में मौजूद लाइकोपीन, क्वेरसेटिन, विटामिन सी शरीर में उत्पन्न मुक्त कणों को बेअसर करते हैं और कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकते है।

Benefits of Guava in Diabetes : डायबिटीज का खतरा कम करें

कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स के कारण अमरूद (Guava) डायबिटीज के विकास को रोकता है। कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स होने के कारण अमरूद अचानक से बढ़ने वाले शुगर लेवल को भी कंट्रोल करता है। अमरूद में फाइबर भी होता है बॉडी में शुगर की मात्रा को अच्छी तरह से कंट्रोल करता है। (और पढ़ें- Diabetes me kya nahi khana chahiye?)

Benefits of Guava for Heart Diseases : हृदय रोगों से बचाव

अमरूद (Guava) ट्राइग्लिसराइड्स और खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) लेवल को कम करने में भी मदद करता है, जो हृदय रोग के विकास में योगदान देता है। अमरूद का औषधीय गुण पाने के लिए फलों के बीज निकाल कर बारीक-बारीक काटकर शक्कर मिलाकर, धीमी आंच पर चटनी बनाकर खाने से हृदयविकार तथा कब्ज में लाभ होता है। (और पढ़ें- Silent heart attack ke lakshan in Hindi)

Guava Helps to Get Rid of Constipation : कब्ज से दिलाए छुटकारा

अन्य फलों के तुलना में अमरूद (Guava) में डाइटरी फाइबर के सबसे बढ़िया गुण पाए जाते है। जो इसे आपके पाचन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद बनाता है। अमरू को नाश्ते में काली मिर्च, काला नमक तथा अदरख के साथ खाने से बदहजमी, खट्टी डकारें, पेट फूलना तथा कब्ज का निवारण होकर भूख बढ़ने लगेगी।

Guava Benefits for Pregnancy : गर्भावस्था में फायदेमंद

अमरूद (Guava) में फोलिक एसिड, या विटामिन बी-9 होता है जो गर्भवती महिलाओं के लिए अनुशंसित है क्योंकि यह बच्चे के तंत्रिका तंत्र को विकसित करने और नवजात शिशु को तंत्रिका संबंधी विकारों से बचाने में मदद कर सकता है। इसलिए गर्भवती महिला को अमरूद का सेवन करना चाहिए। (और पढें- Diet Plan For Pregnant women in Hindi)

Amrud Benefits for Oral Health and Dental Pain in Hindi : दांत दर्द में आरामदायक

अमरूद (Guava) के पत्तें में इंफ्लेमेटरी क्षमता होती है जो संक्रमण से लड़ती है और कीटाणुओं को मारती है। अमरूद के पत्तें के सेवन से दांत दर और मुंह के रोग में आराम मिलता है। अमरूद के पत्तों के रस से दांतों का दर्द, मसूड़ों की सूजन और मुंह के छालों को ठीक होते है। अमरूद के कोमल पत्तों में कत्था मिलाकर पान की तरह चबाने से मुँह के छाले ठीक हो जाते हैं।

Guava for Weight loss : अमरूद घटाए वजन

अमरूद (Guava) आपका वजन कम करने के भी आपकी मदद करता है। अमरूद के सेवन से फूड क्रेविंग शांत रहती है, जिससे आपको बार बार भूख नहीं लगेगी। अमरूद में प्रोटीन, विटामिन और फाइबर होते जो शरीर से अतिरिक्त चर्बी निकलने में मदद करते है। (और पढ़ें- Wajan kaise kam kare?)

Guava Benefits for Piles in Hindi : पाइल्स में लाभकारी

पाइल्स के इलाज में अमरूद की छाल बेहद लाभदायक होती है। 5-10 ग्राम अमरूद की छाल का चूर्ण बना लें। उसके बाद इसका काढ़ा बनाकर पीने से पाइल्स में आराम मिलता है। अच्छे परिणामों के लिए लगातार 1 महीने तक रोजाना यह काढ़ा एक बार जरूर पीना चाहिए।

How to Use Guava in Hindi | अमरूद का उपयोग

ध्यान रहे कि अमरूद (Guava) जरूरत से ज्यादा नर्म न हो, क्योंकि ऐसा होने से अमरूद सड़ा हुआ या जल्दी खराब हो सकता है।

अमरूद (Guava) को हमेशा काटकर खाएं। अमरूद के लाभ के लिए यह जरूरी है क्योंकि इसमें कीड़े हो सकते हैं।

अमरूद (Guava) को अच्छी तरह से धो लें ताकि इससे धूल-मिट्टी या गंदगी निकल जाए और अमरूद साफ हो जाए।

अगर कब्ज की परेशानी है, तो सुबह पका हुआ अमरूद खाएं।

पके हुए अमरूद (Guava).को नमक के साथ खा सकते हैं या कच्चे अमरूद को छोटा-छोटा काटकर या उसे घिसकर नमक के साथ खा सकते हैं।

अमरूद (Guava) का जूस पी सकते या फिर स्मूदी व आइसक्रीम में इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगर पाचन शक्ति सुधारना चाहते हैं, तो पके हुए अमरूद (Guava).को काले नमक के साथ खाएं।

अमरूद का सेवन कितनी मात्रा में करना चाहिए?

2- 3 मध्यम आकार के अमरूद (Guava) प्रतिदिन आराम से खाए जा सकते हैं। इसका कितनी मात्रा में सेवन करना सुरक्षित है, इसके बारे में शोध का अभाव है। बेहतर होगा डायटीशियन से सलाह लें।

Side-Effects of Guava in Hindi | अमरुद के नुकसान क्या है?

  • जिन व्यक्तियों को सर्दी अधिक लगती है। उनको कम मात्रा में अमरुद (Guava) का सेवन करना चाहिए।
  • यदि पाचन सम्बंधित समस्या अधिक होती है। तो अमरुद (Guava) का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • गर्भवती महिला को अमरुद (Guava) का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।
  • जिन व्यक्तियों को अमरुद (Guava) के बीज नहीं पचते हैं उनको एपेन्डिसाइटिस रोग हो सकता है । अत: इनके बीजों के सेवन से बचना चाहिए।

Conclusion -

आज की इस पोस्ट में आपने Amrud ke Fayde (Guava Benefits in Hindi) और नुकसान (Side effects of Guava in Hindi) जानें। इसके आलावा हमने आपको Guava in Hindi के बारे में कई तरह की जानकारियां दी। हमारी इस पोस्ट के बारे में आपकी क्या राय है। हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

ये भी पढें-

Aloe Vera Side Effects in Hindi : संभलकर करें एलोवेरा का सेवन, फायदें के साथ हो सकता है ये नुकसान

Ashwagandha Benefits in Hindi : जानिए अश्वगंधा के फायदे, उपयोग और नुकसान

Buckwheat in hindi: कुट्टू के आटे के क्या फायदे हैं? | Buckwheat Benefits and Side Effects

Sesame Seeds in Hindi : क्या आप जानते है तिल के हैरान कर देने वाले फायदें? जानिए Benefits of Sesame Seeds

Chia Seeds in hindi : शरीर के साथ दिमाग भी तंदरुस्त रखता है चिया सीड्स, जाने Chia Seeds Benefits

Next Story
Share it