स्वास्थ्य

वैक्सीन को भी चकमा दे रहा कोरोना का नया वैरिएंट Omicron, बचाव के लिए तुरंत अपनाएं ये आदतें

Ankit Singh
1 Dec 2021 7:46 AM GMT
वैक्सीन को भी चकमा दे रहा कोरोना का नया वैरिएंट Omicron, बचाव के लिए तुरंत अपनाएं ये आदतें
x
वैज्ञानिकों ने जब से कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) को लेकर चेतावनी जारी की है तब से हड़कंप मच गया है। कमजोर एममुनिटी वाले लोगों को वायरस सबसे पहले प्रभावित करता है, ऐसे में जरूरी है की विशेसज्ञों की सलाह मानकर अपने जीवनशैली में बदलाव कर इम्यून को मजबूत किया जाए। तो आइए आपको बताते है कुछ आदतों के बारे में जिसे अपनाकर आप भी अपना इम्यून स्ट्रांग कर सकते है।

साउथ अफ्रीका से आए कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के बढ़ते मामलों को देखते हुए तीसरी लहर की आशंका लग रही है। हालांकि तीसरी लहर आएगा या नहीं इसपर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है, लेकिन नए वैरिएंट से बचने के लिए खुद से सतर्कता बेहद जरूरी है। ज्ञात हो कि जब पहली और दूसरी लहर आइ तो इससे सबसे ज्यादा ऐसे लोग प्रभावित हुए थे जिनकी इम्युनिटी सबसे ज्यादा कामजोर थी।

ऐसे में यह जरूरी है कि कोरोना प्रोटोकाल के साथ अपने इम्यून सिस्टम को भी स्ट्रांग बनाया जाएं। इसके लिए हेल्थ एक्सपर्ट्स ने कुछ सुझाव दिए है, जिसे अपनाकर प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत किया जा सकता है। इसके लिए आपको अपने जीवनशैली और आहार में कुछ बदलाव करना होगा। तो आइए जानते है कि तीसरी लहर से बचने के लिए अपनी जीवनशैली में क्या-क्या बदलाव किए जा सकते हैं।

हेल्थ चेकअप करवाते रहे

यह जरूरी है कि आप अपना हेल्थ चेकअप समय समय पर करवाते रहे। तीसरी लहर आए चाहे न आये लेकिन अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना जरूरी है। शरीर में कैल्शियम, आयरन और विटामिन डी का स्तर जांचना चाहिए, खराबी मिलने पर उसके अनुसार अपना डाइट प्लान बनाये।

बॉडी को रखे हमेशा तर

शरीर मे पानी का स्तर शरीर को ठीक से काम करने में सक्षम बनाता है। ठंड में प्यास कम लगती है इसलिए लोग कम पानी पीते है, लेकिन ऐसी गलती नहीं करनी चाहिए। जब हमारे शरीर में पानी की मात्रा अच्छी तरह से मौजूद होगी तभी शरीर के अंग अच्छी तरह से काम कर सकते है, इसलिए ठंड के मैसम में पानी पीते रहना चाहिए।

भरपूर नींद लें

कई स्टडी से पता चला है कि नींद का सीधा संबंध इम्यून सिस्टम से होता है। इसलिए जरूरी है कि नींद उचित मात्रा में लें। यदि किसी कारणवश आपको नींद नहीं आ रही है तो बिना हिचकिचाहट के डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

फिजिकली एक्टिव रहें

फिजिकली एक्टिव रहने का मतलब हैवी वर्कआउट नहीं है। यह देखा गया है कि कोरोना के दूसरी लहर के बाद लोगों नर बिना किसी गाइडेंस के हैवी वर्कआउट किया, जिसका दुष्प्रभाव भी देखने को मिला। हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि मॉडरेट एक्सरसाइज करें और पूरे दिन फिजिकली एक्टिव रहें।

हेल्‍दी चीजों का करें सेवन

अपने खाने की प्लेट में ऐसे फक और सब्जियों को शामिल करें जो पोषक तत्वों से भरपूर हो। फल, सब्जियां, नट्स, फलियां, बीज जैसे खाद्य पदार्थ प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में मदद करते है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर मे सूजन को कम करते है।

तनाव न लें

स्ट्रेस का संबंध सीधा तौर पर आपके इम्यून सिस्टम से होता है। कई स्टडी में यह बात साबित हुई है कि तनाव और चिंता की वजह से प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। जब इंसान तनाव में होता तो खाद्य पदार्थों का पोषक तत्व शरीर में नहीं लगता है। इसलिए ऐसी एक्टिविटीज में शामिल होने की कोशिश करें, जो तनाव कम करने में आपकी मदद कर सकें।

आयुर्वेद चीजों का सेवन

ऐसे कई खाद्य पदार्थ है जिन्हें आयुर्वेद में औषदि गुणों से भरपूर माना जाता है। आप अपने नियमित आहार में इम्यूनिटी बूस्टर जैसे अश्वगंधा और गिलोय को शामिल करें। इसके अलावा दिन में एक बार तुलसी की चाय बनाकर पीएं और एक बार गर्म पानी के गरारे करें।

ये भी पढें-

Winter Diet: सर्दियों में अंदर से गर्म रहने के लिए डाइट में इन 5 चीजों को जरूर करें शामिल

Home Remedies For Irregular Periods in Hindi : अनियमित माहवारी का घरेलू इलाज

Ajwain Ke Fayde: सर्दियों में इम्युनिटी और पाचन को करना है मजबूत तो करें अजवाइन का सेवन

Next Story
Share it