क्या एक शख्स को लगाया जा सकता है वैक्सीन का कॉकटेल? स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिया ये जवाब

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अगले अपडेट तक वैक्सीन की मिक्सिंग नहीं कि जा सकती है।  
 
Vacvine  cocktail

पिछले दिनों यूपी के सिद्धार्थनगर जिले में वैक्सीन का कॉकटेल लग गया था। जिसके बाद से कई दिनों से यह सवाल उठ रहे थे कि क्या अलग-अलग कंपनियों की वैक्सीन लगाई जा सकती है? जिसके जवाब में स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अगले अपडेट तक वैक्सीन की मिक्सिंग नहीं कि जा सकती है।  

स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह भी कहा कि दो खुराक वाले टीकों कोविशील्ड और कोवैक्सीन के कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने साथ ही कहा कि कोविशील्ड या कोवैक्सीन की दो खुराक लगाए जाने की समय सीमा में कोई बदलाव नहीं किया गया है. उन्होंने कहा, ''कोविशील्ड की पहली डोज लेने के बाद, दूसरी डोज 12 हफ्ते बाद दी जाएगी. कोवैक्सीन की भी दो डोज दी जाएगी, दूसरी डोज 4 से छह सप्ताह के बीच में लगाई जाएगी.''

गौरतलब है कि सिद्धार्थनगर के टिका केंद्र में 20 लोगों को पहली खुराक में कोविशील्ड जबकि दूसरी खुराक में कोवैक्सीन (काकटेल) लगाया गया था. इस लापरवाही के मामले में सरकार ने जांच के आदेश दिए थे और मुख्‍य चिकित्‍साधिकारी (सीएमओ) ने एएनएम, प्रतिरक्षण (इम्यूनाइजेशन) अधिकारी और प्रभारी चिकित्सा अधिकारी बढ़नी के विरुद्ध प्रशासनिक कार्रवाई की थी.

देश और दुनिया की ताज़ा खबरों के लिए हमारे फेसबुक पेजको लाइक करे, हमे Twitterपर फॉलो करे, हमारेयूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कीजिये|