आर्थिक

RD, FD या लिक्विड फंड: आपको इमरजेंसी फंड कहां इन्वेस्ट करना चाहिए? जानिए सबसे अच्छा विकल्प

Ankit Singh
26 Jan 2022 4:53 AM GMT
RD, FD या लिक्विड फंड: आपको इमरजेंसी फंड कहां इन्वेस्ट करना चाहिए? जानिए सबसे अच्छा विकल्प
x
Emergency Fund: दुर्घटना कभी बोलकर नहीं आती है, इसलिए इमरजेंसी फंड बनाने की सलाह दी जाती है ताकि बुरे वक्त में आपको फाइनेंसियल प्रॉब्लम न हो। लेकिन आपको अपना इमरजेंसी फंड कहा निवेश करना चाहिए? यह जानना आपके लिए जरूरी है।

Emergency Fund: इमरजेंसी फंड एक ऐसा रिजर्व होता है जिसका उपयोग आप संकट के समय या अप्रत्याशित घटनाओं के लिए कर सकते हैं। आपातकालीन फंड नियमित खर्चों के लिए नहीं होता है, नतीजतन आपको इसे किसी भी ऐसी घटना के लिए तैयार करना होगा जो कभी बिना बताए उत्पन्न हो सकते है। फाइनेंस एक्सपर्ट्स का कहना है कि इमरजेंसी फंड इतना होना चहिए जिससे आपके कम से कम 6 महीने का खर्च चल जाये।

इमरजेंसी फंड बनाने से पहले आपको यह भी विचार करना चाहिए कि आपातकालीन फंड को कहा रखा जाएं। Emergency Fund ऐसा होना चाहिए जहां से आप अपना पैसा जल्द निकाल सकें। यह समझना भी जरूरी है कि आपातकालीन निधि भले ही तरल हो लेकिन इसका बार-बार उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। इसलिए इमरजेंसी फंड को ऐसे जगह निवेश करना चाहिए जहां तरलता के साथ अच्छा रिटर्न भी मिले। फिक्स्ड डिपाजिट (FD), लिक्विड फंड (Liquid Fund) और आरडी (RD) में इमरजेंसी फंड को निवेश करना सबसे बढ़िया विकल्प माना जाता है। लेकिन तीनों में सबसे अच्छा क्या है वह जानने के की कोशिश करते है।

Recurring Deposit (RD)

बैंक में नियमित रूप से रेगुलर डिपाजिट करना इमरजेंसी फंड के लिए एक सही रणनीति है। RD आपको स्पष्ट रूप से यह दिखाता है कि बचत का निर्माण करने में कितना समय लगेगा। बचत खाते में पैसा छोड़ने से इसका उपयोग अन्य चीजों के लिए किया जा सकता है। आपातकालीन फंड का निर्माण करते समय सबसे ज्यादा विचार करने वाली बात पूंजी की सुरक्षा और तरलता हैं। RD एक आपातकालीन फंड शुरू करने के लिए एक बढ़िया टूल है लेकिन यह आपके Emergency Fund को रखने के लिए सबसे अच्छी जगह नहीं है क्योंकि इमरजेंसी फंड का उपयोग आपात स्थिति में किया जाना चाहिए और RD लंबी अवधि के लिए होते है, जो इसे इमरजेंसी फंड के लिए अच्छा विकल्प नहीं बनाता है।

Fixed Deposit (FD)

FD पर आप बैंक सेविंग एकाउंट से अधिक ब्याज़ दर अर्जित कर सकते हैं। हालांकि RD के समान यह भी एक लंबी अवधि के लिए एक निवेश है। यह मजबूत तरलता भी प्रदान करता है क्योंकि FD को आमतौर पर उसकी बैंक शाखा से एक दिन के वर्किंग डे में समाप्त किया जा सकता है। अगर आप इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करके करते हैं तो आप बैंक की छुट्टियों में भी इसे ऑनलाइन लिक्विड में कन्वर्ट कर सकते है।

हालांकि आप समय से पहले FD राशि को निकलते है तो आपको उसपर मिलने वाला ब्याज नहीं मिलता है, हो सकता है कि अपकर पेनालिटी चार्ज भी लगे। इसलिए FD भी इमरजेंसी फंड के लिए सबसे उपयुक्त विकल्प नहीं है।

Liquid Mutual Fund

कई एक्सपर्ट अपने इमरजेंसी फंड के एक हिस्से को लिक्विड म्यूचुअल फंड में निवेश करने की सलाह देते हैं, जिन्हें अन्य लोन एसेट की तुलना में सुरक्षित माना जाता है। वे सेविंग एकाउंट की तुलना में बेहतर रिटर्न प्रदान करने के लिए जाने जाते हैं। हालांकि ध्यान रखें कि आपके बैंक खाते में नकदी दिखाई देने में 1-3 दिन लग सकते हैं भले ही आप इंटरनेट से निकासी करें।

जहां बैंक FD में 5 लाख रुपये का डिपॉजिट इंश्योरेंस कवर होता है, वहीं लिक्विड मनी में यह सिक्योरिटी नहीं होती है। आप अपनी जोखिम उठाने की क्षमता और उपयोग के आधार पर अपने इमरजेंसी फंड के एक हिस्से को लिक्विड फंड में स्टोर कर सकते हैं।

निष्कर्ष -

कैश या नियर-कैश इंस्ट्रूमेंट्स जैसे सेविंग बैंक अकाउंट या लिक्विड फंड को इमरजेंसी फंड में रखा जाना चाहिए। एक इमरजेंसी फंड में पैसा रखते समय ज्यादा रिटर्न का लक्ष्य न रखें इसके बजाय तरलता और सुरक्षा की तलाश करें। FD या RD इमरजेंसी फंड के लिए उपयुक्त नहीं हैं क्योंकि उन्हें लंबी अवधि के लिए परिभाषित किया जाता है।

इमरजेंसी में पैसे की जरूरत होती है इसलिए यह फंड हमेशा लिक्विड होना चाहिए। अपने आपातकालीन फंड निवेश के साथ सुनिश्चित करें कि अगर आप जल्दी निकासी करते हैं तो आप पर कोई एक्जिट लोड या पेनल्टी न लगे। खर्च की गई राशि का मूल्य कम नहीं होना चाहिए और बकाया रिटर्न भी मिलना चाहिए।

ये भी पढें -

बनना है मालामाल, तो कम उम्र से ही अपनाएं ये टिप्स

जॉब की शुरुआत होते ही इन 5 चीजों की करें प्लानिंग, पैसों की नहीं होगी किल्लत, फ्यूचर होगा सेफ

Emergency Fund Kya Hai: यह फंड क्यों है जरूरी, कितनी होनी चाहिए रकम और कहां करें निवेश?

Liquid Funds vs Fixed Deposits: फंड तैयार करने के लिए क्या बेहतर, एफडी या लिक्विड फंड?

Next Story