आर्थिक

Home Loan: होम लोन की EMI पेमेंट करने से चूक जाएं तो जानिए ऐसी स्थिती में क्या करना चाहिए?

Ankit Singh
27 March 2022 11:40 AM GMT
Home Loan: होम लोन की EMI पेमेंट करने से चूक जाएं तो जानिए ऐसी स्थिती में क्या करना चाहिए?
x
आमतौर पर होम लोन की अवधि 15-20 साल के लिए होती है और इतने लंबे समय में विभिन्न जटिलताएं उत्पन्न हो सकती हैं जिससे आपके लिए लोन चुकाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में अगर आप अपने Home Loan की EMI चूक जाएं तो क्या करें?

लोग आमतौर पर अपने सपनों की खरीदारी के लिए होम लोन लेते हैं। चूंकि होम लोन लंबी अवधि के लिए लिया जाता है, इसलिए एक समय ऐसा भी आ सकता है जब आप अप्रत्याशित परिस्थितियों के कारण अपनी EMI में से एक का भुगतान करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं।

अगर आप एक EMI भुगतान चूक जाते हैं, तो आपको अगले महीने की EMI के साथ छूटे हुए हिस्से का भुगतान करते समय अगले महीने में कुछ परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। यह परिणाम वित्तीय होने के साथ आप साख पर भी बट्टा लगा सकते है।

वित्तीय मामलों में लेट फीस, पेनालिटी और यहां तक ​​कि दंडात्मक ब्याज भी लिया जाएगा। पेनल्टी चार्ज आमतौर पर EMI का 1-2% होता है। हालांकि, स्थिति के आधार पर, कुछ मामलों में आपको डिफ़ॉल्ट की अवधि के लिए पूरी ओवरड्यूं अमाउंट पर दंडात्मक ब्याज का भुगतान करना पड़ सकता है। यह ऋणदाता द्वारा लगाए गए लेट फीस के अतिरिक्त होगा। कुल मिलाकर, यह एक महत्वपूर्ण राशि हो सकती है।

वहीं अगर आपके साख की बात करें तो यह क्षति और भी अधिक हो सकती है। एक भी EMI पेमेंट न करना आपके क्रेडिट हिस्ट्री में दर्ज हो जाता है और आपके क्रेडिट स्कोर को नुकसान पहुंचाता है। आपके होम लोन पर एक भी चूक आपके स्कोर को 50-70 अंक तक कम कर सकती है। ऐसी स्थिति आपको आगे क्रेडिट के लिए अमान्य बना सकती है।

हालांकि, अगर आपकी EMI छूट गई है और यह पिछले भुगतान के 90 दिनों के भीतर है, तो इसे मामूली चूक के रूप में वर्गीकृत किया जाएगा और अगर आप तुरंत सुधार के लिए कार्रवाई करते हैं तो आप इसके प्रभाव से उबर सकते हैं। छूटी हुई EMI का भुगतान अगली देय तिथि पर करें और सुनिश्चित करें कि आप कोई और EMI मिस न करें।

अगर आपके पास नौकरी छूटने या मेडिकल कारणों की वजह से फाइनेंसियल प्रॉब्लम हैं, तो ऋणदाता से संपर्क करें और समाधान खोजें। ऋणदाता 90 दिनों से पहले आपको नॉन परफार्मिंग एसेट (NPA) के रूप में वर्गीकृत नहीं कर सकते। लेकिन अगर आप 90 दिनों के बाद भी अपनी बकाया राशि का भुगतान करने में असमर्थ हैं, तो ऋणदाता के पास अपनी बकाया राशि की वसूली के लिए आपकी संपत्ति की नीलामी की प्रक्रिया शुरू करने का अधिकार सुरक्षित है। इसलिए, ऐसी स्थितियों से बचने के लिए जल्द कदम उठाएं।

इसके अलावा होम लोन डिफॉल्ट से बचने के लिए, आप अपने ऋणदाता के साथ कम EMI का अनुरोध कर सकते हैं। ऐसे मामलों में जहां इनकम फ्लो बाधित होता है, आप ऋणदाता से संपर्क कर सकते हैं और EMI मुक्त अवधि के लिए रिक्वेस्ट कर सकते हैं। अगर आपने अपनी नौकरी खो दी है या अस्थायी रूप से अपना बिजनेस बंद कर दिया है तो ऐसे मामलों में बैंक आपको EMI पेमेंट पर तीन से छह महीने की छूट दे सकते हैं। हालांकि ऋणदाता बाद में इस अवधि के लिए बकाया ऋण राशि पर ब्याज ले सकता है।

एक अन्य विकल्प EMI का बोझ कम करने के लिए आंशिक भुगतान (Partial Payment) करना है। यह होम लोन ओवरड्राफ्ट सुविधा का उपयोग करके किया जा सकता है। इस प्रकार जब भी आपके पास अतिरिक्त धनराशि उपलब्ध हो और एक एक्टिव होम लोन हो तो ओवरड्राफ्ट एकाउंट में Partial Payment करने से आपका वित्तीय बोझ कम हो सकता है।

ये भी पढ़ें -

घर खरीदने का प्लान बना रहें? तो क्या आपको होम लोन लेना चाहिए या कैश पेमेंट करना चाहिए? जानिए

घर खरीदने के लिए Home Loan का बना रहे हैं प्लान? तो इन 5 चीजों का रखें खास ध्यान

घर बनवाने के लिए लेना चाहते हैं लोन? तो ये 10 तरह के Home Loan आपके लिए हो सकते है मददगार

हड़बड़ी में न करवाएं घर का बीमा, Best Home Insurance चुनने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

Next Story