आर्थिक

कैशलेस बाइक इंश्योरेंस क्या है? : Cashless Bike Insurance Kya Hai?

Ankit Singh
17 Feb 2022 7:12 AM GMT
कैशलेस बाइक इंश्योरेंस क्या है? : Cashless Bike Insurance Kya Hai?
x
Cashless Bike Insurance in Hindi: ऐसे कई मामले देखे गए हैं जहां इंश्योरेंस कंपनियों ने दस्तावेज में कमी के कारण Claim Settlement नहीं किया। ऐसे में Cashless Bike Insurance सबसे अच्छा ऑप्शन गई। आइए यहां जानते है कि Cashless Bike Insurance Kya Hai?

Cashless Bike Insurance in Hindi: भारत में जिसने भी दोपहिया वाहन चलाया है, उसे पता होगा कि वाहन बीमा पॉलिसी (Vehicle Insurance Policy) का होना कितना जरूरी है। सड़क पर वाहनों की बढ़ती संख्या के साथ दुर्घटनाओं की संभावना और भी बढ़ जाती है। लेकिन कभी-कभी सिर्फ Bike Insurance Policy खरीदना ही काफी नहीं होता है। ऐसे कई मामले देखे गए हैं जहां इंश्योरेंस कंपनियों ने दस्तावेज की कमी या क्लेम के रिक्वेस्ट में देरी के कारण Claim Settlement नहीं किया।

ऐसी स्थिति से बचने का एक शॉट तरीका है कि आप अपनी Bike Insurance Policy किसी ऐसे बीमाकर्ता से खरीदें जो Cashless Bike Insurance प्रदान करता हो। ऐसे में आइये जानते है कैशलेस बाइक इंश्योरेंस क्या है? (What is Cashless Bike Insurance in Hindi)

Cashless Bike Insurance Kya Hai?

Cashless Bike Insurance, जिसे मोटर इंश्योरेंस में कैशलेस क्लेम के रूप में भी जाना जाता है। यह आपकी अपनी जेब से कोई पैसा दिए बिना आपकी बाइक की मरम्मत (किसी भी बीमित घटना के बाद) में आपकी मदद करता है।

यह Health Insurance के कैशलेस सेटलमेंट के समान है। Cashless Bike Insurance में किसी भी मरम्मत कार्य की कॉस्ट का पेमेंट बीमाकर्ता द्वारा आपकी भागीदारी के बिना गैरेज को सीधे किया जाता है।

Cashless Bike Insurance कौन खरीद सकता है?

सबसे पहले यह समझना जरूरी है कि Bike Insurance दो प्रकार का होता है। तृतीय-पक्ष बीमा (Third-party Insurance) और व्यापक बीमा (Comprehensive Insurance)। थर्ड पार्टी लायबिलिटी-ओनली इंश्योरेंस पॉलिसी केवल तीसरे पक्ष की सुरक्षा करती है जो आपके वाहन के कारण हुई दुर्घटना के कारण नुकसान या नुकसान का सामना करता है। जबकि एक व्यापक बीमा पॉलिसी (Comprehensive Insurance) आपकी बाइक को चौतरफा सुरक्षा प्रदान करती है क्योंकि यह आपके अपने वाहन और तीसरे पक्ष दोनों को किसी भी नुकसान के खिलाफ कवर करती है।

यहां यह ध्यान रखना जरूरी है कि Cashless Bike Insurance केवल वे ही खरीद सकते हैं जिनके पास अपने वाहनों के लिए Comprehensive Insurance Cover है। केवल लायबिलिटी कवर वाले पॉलिसीधारक किसी भी कैशलेस बेनिफिट का लाभ नहीं उठा सकते हैं।

Cashless Bike Insurance सुविधा कैसे काम करती है?

प्रत्येक बीमाकर्ता के पास पार्टनर गैरेज का अपना नेटवर्क होता है, जिसे Cashless Garages भी कहा जाता है। अधिकांश बीमाकर्ता अपने ग्राहकों को कैशलेस गैरेज की अपनी सूची के बारे में पहले से ही सूचित करते हैं। कैशलेस गैरेज की लिस्ट बीमा कंपनी की आधिकारिक वेबसाइटों पर भी देखी जा सकती है। पार्टनर गैरेज की डिटेल जानने के लिए आप अपने बीमा प्रदाता का कस्टमर केयर नंबर भी डायल कर सकते हैं या अपने बीमा एजेंट से संपर्क कर सकते हैं।

अगर आपकी बाइक दुर्घटना का शिकार हो जाती है और क्षतिग्रस्त हो जाती है, तो आप अपने बीमाकर्ता को सूचित करने के बाद इसे सीधे अपने नजदीकी पार्टनर गैरेज में ले जा सकते हैं। एक बार जब बीमाकर्ता आपकी पॉलिसी के डिटेल की पुष्टि कर लेता है और आपकी कैशलेस मरम्मत को मंजूरी दे देता है, तो आपको बस मरम्मत कार्य पूरा करने के लिए गैरेज की प्रतीक्षा करनी होगी और फिर बिना कुछ भुगतान किए अपनी बाइक को बाहर निकालना होगा।

गैरेज सहायक दस्तावेजों के साथ सीधे बीमा कंपनी को रिपेयर बिल भेजता है। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि Cashless Bike Insurance में भी बीमाकर्ता केवल उन नुकसानों का भुगतान करता है जो बाइक बीमा पॉलिसी के अंतर्गत आते हैं। कोई अन्य खर्च जिसे पॉलिसी के कवरेज से बाहर रखा गया है आपको ही वहन करना होगा।

कैशलेस टू-व्हीलर इंश्योरेंस के क्या फायदे हैं? (Benefits of Cashless two-wheeler insurance)

Cashless Bike Insurance खरीदना वास्तव में फायदेमंद साबित हो सकता है, खासकर संकट के समय में जब आप पहले से ही किसी दुर्घटना के बाद से निपट रहे हों। आइए देखें कि कैसे-

Repair के लिए पेमेंट करने की जरूरत नहीं

एक रेगुलर पॉलिसी में आप पहले अपनी जेब से बाइक रिपेयर बिल का भुगतान करते हैं और फिर अमाउंट के लिए क्लेम करते है। अगर आप पहले से ही वित्तीय संकट का सामना कर रहे हैं तो यह कठिन हो सकता है। बिल अमाउंट का सेटलमेंट करने के लिए आपको बड़ी राशि की व्यवस्था करने के कष्ट से गुजरना पड़ सकता है। लेकिन Cashless Bike Insurance इस समस्या का समाधान करता है क्योंकि आपकी बाइक की मरम्मत के लिए पहले पेमेंट करने की जरूरत नहीं है।

बहुत कम पेपर वर्क्स

रेगुलर पॉलिसी में आपको बहुत ही अधिक कागजी कार्रवाई करनी पड़ती है। अगर गलती से कोई पेपर मिस हो गया तो कंपनी सेटलमेंट करने से मना कर देती है। जबकि Cashless Bike Insurance के लिए आपकी ओर से न्यूनतम दस्तावेज़ीकरण की आवश्यकता होती है। आपको केवल नेटवर्क गैरेज में ही क्लेम फॉर्म दाखिल करना होगा और पॉलिसी कागजात, पहचान प्रमाण आदि जैसे दस्तावेज जमा करने होंगे। उसके बाद आपका काम हो गया। फिर गैरेज की जिम्मेदारी होगी कि वह बीमाकर्ता को बिल और चालान जमा करे और क्लेम अमाउंट प्राप्त करे।

बिना परेशानी के करवाएं रिपेयर

अगर आपकी बाइक दुर्घटना का शिकार हो गई है, तो संभावना है कि आप दुर्घटना में मानसिक रूप से परेशान होंगे या यहां तक ​​कि शारीरिक रूप से घायल भी होंगे। ऐसे में बिना किसी परेशानी के अपने बाइक की मरम्मत कराना चाहते है। Cashless Insurance पूरी प्रक्रिया को परेशानी मुक्त बनाता है। आपको बस पार्टनर गैरेज में वाहन छोड़ने की जरूरत है और इसे तब तक भूल जाएं जब तक कि आपकी बाइक पूरी तरह से ठीक न हो जाए। Cashless Bike Insurance में सेटलमेंट प्रोसेस आमतौर पर बहुत तेज होती है क्योंकि दस्तावेज और कागजी कार्रवाई की संभावना कम होती है।

ये भी पढ़ें -

Car Insurance in Hindi: Car Insurance Kya Hai और यह कितने तरह का होता है? जानिए

हड़बड़ी में न करवाएं घर का बीमा, Best Home Insurance चुनने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

Maternity Insurance: मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान क्या है? यह महिलाओं के लिए क्यों है जरूरी, जानिए

Life Insurance vs General Insurance : जीवन बीमा और सामान्य बीमा में क्या अंतर है? समझें

Next Story