आर्थिक

Car Insurance in Hindi: Car Insurance Kya Hai और यह कितने तरह का होता है? जानिए

Ankit Singh
7 Feb 2022 6:13 AM GMT
Car Insurance in Hindi: Car Insurance Kya Hai और यह कितने तरह का होता है? जानिए
x
Car Insurance in Hindi: एक्सीडेंट या कार चोरी होने की स्थिती में Car Insurance बहुत काम आता है। ऐसे में यह समझना जरूरी है कि कार इंश्योरेंस कितने प्रकार के होते है? (Types of Car Insurance in Hindi) और सही कार इंश्योरेंस का चुनाव कैसे करें? (How to choose the right car insurance?)

Car Insurance in Hindi: इलेक्ट्रिक वाहनों का बाजार 2025 तक 50,000 करोड़ रुपये तक पहुंच सकता है। अधिकांश लोग अपने जीवन में एक कार के मालिक हैं या उसके मालिक होने की इच्छा रखते हैं। कार के लिए इंश्योरेंस खरीदना कार खरीदने के साथ-साथ चलता है। मोटर व्हीकल एक्ट 1988 के तहत सभी वाहनों के लिए Motor Insurance अनिवार्य है। मोटर इंश्योरेंस कंपनियां हमारी व्यक्तिगत जरूरतों को पूरा करने के लिए ढेर सारे प्लान पेश करती हैं। अलग-अलग फीचर्स और अलग-अलग प्राइस पॉइंट के साथ कई प्लान हैं। आवश्यकताओं के अनुसार सही इंश्योरेंस चुनना दुविधा वाला काम है।

ऐसे में हमारा ये लेख आपके बहुत काम आने वाला है। यहां हम आपको बतएंगे कि Car Insurance Kya Hai? (What is Car Insurance in Hindi) यह कितने तरह का होता है? (Types of Car Insurance in Hindi) और अपने लिए सही कार इंश्योरेंश कैसे चुने? (How to choose the right car insurance?)

Car Insurance Kya Hai? | What is Car Insurance in Hindi

Car Insurance in Hindi: कार इंश्योरेंस वह बीमा कवच होता है, जो कार चोरी होने, एक्सीडेंट होने या फिर अन्य तरह की अकस्मात घटनाओं की स्थिति में आपकी कार को होने वाले नुकसान की भरपाई में मदद करता है।

इसलिए जिस व्यक्ति के पास कार है, मोटर व्हीकल एक्ट के तहत Car Insurance करवाना अनिवार्य हो जाता है। Car Insurance को Motor Insurance भी कहा जाता है। यदि किसी दुर्घटना में कार एवं ड्राइवर को नुकसान पहुंचता हैं लेकिन उसके पास दुर्घटना स्थल पर किसी भी प्रकार के कार इंश्योरेंस कवरेज नहीं हैं, तो ऐसी स्थिति में व्यक्ति को कार के नुकसान भरपाई स्वयं करनी होगी। इस स्थिति में आप पर कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती हैं इसलिए कार चलाते समय इंश्योरेंस डाक्यूमेंट्स अपने साथ रखें।

Types of Car Insurance in Hindi | विभिन्न प्रकार के बीमा कवरेज

1. Third-Party Liability Coverage

यह कानून के तहत अनिवार्य न्यूनतम बीमा कवरेज है। इस प्रकार का इंश्योरेंस केवल तीसरे पक्ष को हुए नुकसान को कवर करता है। दुर्घटना की स्थिति में आपकी कार को हुए नुकसान के लिए कोई मुआवजा नहीं दिया जाता है। यह प्लान किफायती प्रीमियम के साथ एक बेसिक प्लान है।

2. Comprehensive insurance cover

इस तरह के कवरेज को व्यापक बीमा कवर कहा जाता है। इस कवर में आपकी कार को हुए नुकसान, चालक को लगी व्यक्तिगत चोट और तीसरे पक्ष के नुकसान दोनों के लिए मुआवजा शामिल है। अपने बजट को देखते हुए आप इस प्रकार के लाभ वाले बीमा का चुनाव कर सकते है। प्राकृतिक आपदा या मानव निर्मित आपदा होने की स्थिति में यह नीति सुरक्षा प्रदान करती है। अगर कोई दुर्घटना होती है, तो कार के मालिक/चालक को भी कवर किया जाता है। कवर कार के यात्रियों के लिए विस्तारित नहीं है।

सही कार इंश्योरेंस कैसे चुने? | How to choose the right car insurance?

विभिन्न कर इंश्योरेंस की तुलना करें

आपको कार इंश्योरेंस लेने से पहले कई कंपनियों की बीमा योजनाओं के बारें में तुलना करनी चाहिए। पॉलिसी के संबंध में आपको ठीक प्रिंट पढ़ना चाहिए और ऐड-ऑन राइडर्स का विश्लेषण करना चाहिए। कई ई-कॉमर्स साइटें प्रतिस्पर्धी कीमतों पर विभिन्न योजनाएं पेश करती हैं। खर्च किए गए क्लेम के रेश्यो का विश्लेषण करें और यह जांचें की बीमा कंपनी क्लेम का सेटलमेंट तुरंत करती है या नहीं। अच्छे से कॉस्ट और बेनिफिट्स का विश्लेषण करने के बाद ही वह योजना चुनें जो आपके लिए सबसे अच्छा काम करे।

ऐड-ऑन चुनें

ऐड-ऑन राइडर्स पॉलिसी कवरेज का दायरा बढ़ाते हैं और विशिष्ट जोखिमों को कवर करते हैं। उदाहरण के लिए इंजन प्रोटेक्ट ऐड-ऑन आपके इंजन की सुरक्षा करता है और बाढ़ के दौरान सुरक्षा प्रदान करता है। यह विकल्प केवल Comprehensive Insurance Cover पॉलिसीधारकों के लिए उपलब्ध है। यदि संभव हो तो Zero Depreciation Cover प्राप्त करें, जो एक ऐड-ऑन कवर है। यह कवर सुनिश्चित करता है कि बीमा कंपनी मरम्मत और मरम्मत में उपयोग किए गए सभी कार भागों के लिए भुगतान करे।

पॉलिसी की शर्तों को स्पष्ट रूप से समझें

पॉलिसी दस्तावेज़ का बढ़िया प्रिंट पढ़ें। इस तरह, आप बीमा कवरेज की शर्तों को पूरी तरह से समझ पाएंगे। जब आप क्लेम फाइल करते हैं तो बाद के विवादों से बचने के लिए टर्म और कंडीशन जरूर पढ़ें।

अन्य बातें

  • अपनी बीमा प्रीमियम आवश्यकताओं की निगरानी करें और उन्हें अपडेट करें। अपनी पॉलिसी को लैप्स न होने दें।
  • अपने ड्राइविंग एक्सपीरियंस, एक्सीडेंट रिकॉर्ड आदि के बारे में इंश्योरेंस कंपनी को सही जानकारी प्रदान करें। बीमा योजना खरीदते समय इंश्योरेंस कंपनी को दी गई गलत जानकारी से पॉलिसी रद्द हो सकती है।
  • कार इंश्योरेंस ऑनलाइन खरीदने का प्रयास करें, क्योंकि ऑनलाइन या आपको सस्ता पड़ेगा और यह पूरी तरह से ट्रांसपेरेंट होता है।

ये भी पढें-

Life Insurance Policy को ऑनलाइन खरीदना क्यों होता है सबसे बेहतर? जानिए 7 बड़े कारण

फैमिली हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदते वक्त न करें लापरवाही, इन 6 टिप्स के जरिए चुने बेस्ट पॉलिसी

Life Insurance vs General Insurance : जीवन बीमा और सामान्य बीमा में क्या अंतर है? समझें

Life Insurance का क्लेम कैसे करें? यहां जानें पूरी प्रक्रिया, नहीं होगी किसी तरह की परेशानी

Next Story