आर्थिक

इंस्टेंट पैसों की है जरूरत तो ब्रिज लोन के लिए कर सकते है अप्लाई, यहां जानें Bridge Loan क्या है?

Ankit Singh
2 Feb 2022 4:55 AM GMT
इंस्टेंट पैसों की है जरूरत तो ब्रिज लोन के लिए कर सकते है अप्लाई, यहां जानें Bridge Loan क्या है?
x
Bridge Loan: अगर आप इमीडियेट या इंस्टेंट लोन की तलाश में हैं, तो ब्रिज लोन (Bridge Loan) के लिए अप्लाई करें। यहां बताया गया है कि Bridge Loan के लिए आपको कैसे आसानी से लोन अप्रूवल मिलेगा और इसके लाभ किया है।

Bridge Loan: लोग अक्सर कार लोन, पर्सनल लोन, होम लोन आदि पर चर्चा करते हैं, लेकिन क्या आपने कभी 'ब्रिज लोन' (Bridge Loan) के बारे में सुना है? ब्रिज लोन एक शार्ट टर्म लोन (Short Term Loan) है और यह बैंकों और वित्तीय संस्थानों द्वारा आसानी से उपलब्ध कराया जाता है। ऐसे लोन पर आमतौर पर ब्याज दर अधिक होती है, इसलिए लोग इसे लेने से बचते हैं। लेकिन, इसके कई फायदे हैं जो संकट के समय आपकी मदद कर सकते हैं।

Bridge Loan को सुरक्षित ऋण माना जाता है क्योंकि इसके नियम और शर्तें के अनुसार गारंटी के तौर पर संपत्ति गिरवी रखना पड़ता है। इस ऋण की अवधि अन्य ऋणों की तुलना में कम होती है। यदि किसी को तत्काल ऋण की आवश्यकता है, तो वह प्राथमिकता के आधार पर Bridge Loan पर विचार कर सकता है।

लोग अक्सर Bridge Loan प्रॉपर्टी खरीदने और बेचने के बीच की अवधि के लिए लेते हैं। क्योंकि लंबी अवधि के EMI ऋण लेने के लिए बहुत सारी औपचारिकताओं और कागजी कार्रवाई की आवश्यकता होती है और उसमें समय भी लगता है।

Bridge Loan कैसे प्राप्त करें?

बैंक/वित्त कंपनियां शार्ट टर्म जरूरतों के लिए Bridg Loan प्रदान करती हैं। इसे 12 से 24 महीने की अवधि के लिए लिया जा सकता है। यह बैंक या वित्तीय संस्थान पर निर्भर करता है कि वह कितने समय के लिए ऋण दे रहा है।

Bridge Loan के लिए आवश्यक दस्तावेज

इस लोन को प्राप्त करने के लिए लोन एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा। फॉर्म में लोन के प्रकार की डिटेल, ग्राहकों को अपने आय से संबंधित दस्तावेज, पहचान पत्र, पते का प्रमाण और फोटो जमा करना होगा।

सुरक्षा संबंधी चिंता

बैंक आपको नई संपत्तियों पर कर्ज दे सकते हैं, इसके बदले में बैंक संपत्ति को सुरक्षा के रूप में रखने के लिए कह सकता है। अगर ग्राहक ऋण चुकाने में असमर्थ है, तो बैंक संपत्ति को जब्त कर लेता है।

उधार की राशि

Bridge Loan के तहत ग्राहक को नई प्रॉपर्टी की कीमत का 70 से 90 फीसदी तक मिल सकता है। हालांकि, यह राशि आवेदक की आय पर भी निर्भर करती है।

रीपेमेंट कैसे करें?

ग्राहक EMI का भुगतान करके लोन राशि का भुगतान कर सकते हैं। हालांकि यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि Bridge Loan पर लगने वाला ब्याज आमतौर पर लंबी अवधि के होम लोन से अधिक होता है।

ये भी पढें -

Loan Against Mutual Funds: म्यूचुअल फंड में करते हैं निवेश तो आसानी से ले सकते हैं लोन, जानिए क्या है तरीका

PPF एकाउंट बंद हो जाएं तो क्या करें? घबराएं नहीं यहां जानें खाते को दोबारा एक्टिवेट करने का तरीका

ITR Filing: भारत में टैक्स रिटर्न कैसे फाइल करें? स्टेप बाई स्टेप प्रोसेस से समझे ITR फाइल करना

घर खरीदने के लिए Home Loan का बना रहे हैं प्लान? तो इन 5 चीजों का रखें खास ध्यान

Next Story